यह हैं CM शिवराज के हमशक्ल, कद-काठी, चेहरा देखकर लोग खा जाते हैं धोखा

ग्वालियर। प्रदेश में बहुत से लोग ऐसे हैं जो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की एक झलक पाने के लिए बेताब रहते हैं वहीं ग्वालियर में एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ मुख्यमंत्री शिवराज जैसा दिखने वाले एक व्यक्ति रहता है जिसे देखकर लोग धोखा खा जाते हैं । 

मुख्यमंत्री की कद,काठी और उन्हीं जैसी सूरत और चेहरे पर उन्ही की तरह चश्मा लगाने और उन्हीं की तरह बातचीत करने वाले इस व्यक्ति का नाम है महेश शर्मा और ये परशुराम कॉलोनी मुरार में रहते हैं । महेश शर्मा जहां मुख्यमंत्री जैसा दिखने के कारण खुश है वहीं  इसी वजह से परेशान भी हैं। वे जहां भी जाते है, लोग उन्हें मुख्यमंत्री समझ कर घेर लेते हैं और कई तरह से सवाल-जवाब करने लगते हैं।

जब ये घर से निकलते है, लोग चौंक जाते हैं, न तो कोई सुरक्षाकर्मी, न नारे लगाते कार्यकर्ता और पैदल-पैदल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहीं चले जा रहे हैं, लेकिन थोड़ी देर के कौतूहल के बाद लोगों का भ्रम तब दूर होता है, जब उन्हें असलियत महेः लहद बताते हैं । 

शिवराज सिंह के मुख्यमंत्री बनने के बाद से मुख्यमंत्री जैसा दिखने के कारण उनके मिलने वाले , दोस्त और परिजन  उन्हें प्यार से सीएम साहब कहकर बुलाने लगे हैं। महेश शर्मा भाजपा के किसी कार्यक्रम में नहीं जाते। पहले जब वो एक दो कार्यक्रम में गए तो लोगों ने उन्हें सीएम समझकर घेर लिया, पैर छूने लगे। तब से  वे बीजेपी के कार्यक्रम में नहीं जाते। महेश शर्मा 36 साल तक रोडवेज में कंडक्टर रहे हैं और अब सेवानिवृत्त होकर साधारण जीवन व्यतीत कर रहे हैं।

 महेश शर्मा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के प्रशंसक हैं। उनका कहना है कि कुछ लोग मुख्यमंत्री की छवि को धूमिल कर रहे हैं, उन्होंने जो योजनाएं शुरू की वह धरातल तक पहुंची हैं और उनका लाभ जनता को मिल रहा है, लेकिन कुछ लोग उनकी क्षवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं। उनका कहना है कि मैं मुख्यमंत्री की तरह दिखता जरूर हूँ लेकिन मेरा किसी पार्टी से नाता नहीं है।