जानना चाहता था मौत के बाद का रहस्य...फिर उठाया ये खौफनाक कदम

नई दिल्ली।

किसी ना किसी उम्र में हर किसी के मन में एक सवाल खड़ा होता है, कि आखिर मरने के बाद कैसा लगता है। मौत के बाद इंसान कैसा दिखता है।लेकिन कभी कोई इस रहस्य को जान नहीं पाया है और ना ही किसी ने कोई कोशिश की। लेकिन इस रहस्य को जानने एक इंजीनियर ने नए साल के दिन मौत को गले लगा लिया।इंजीनियर नवदीप के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने इस बात का खुलासा किया है। उसने नोट में लिखा है कि उसने ये कदम मौत के बाद के रहस्य को जानने के लिए उठाया है। नवदीप मोक्ष को जानना चाहता था,इसलिए उसने सोमवार रात मंजिल से कूदकर जान दे दी।उसके सुसाइड की वजह डिप्रेशन मानी जा रही है। 

पेशे से इंजीनियर 25 वर्षीय नवदीप बुराड़ी के संत नगर इलाके में रहता था।वह भागलपुर का रहने वाला था।नवदीप ने कोलकाता के एक कॉलेज से इंजीनियरिंग करने के बाद डेढ़ साल मर्चेट नेवी में नौकरी की। नवदीप स्वीडन से एमटेक की पढ़ाई पूरी कर 2017 में भारत लौट आया था। वह पीएचडी में दाखिला लेना चाहता था लेकिन कामयाब नहीं हो पाया। बताया गया है कि दिल्ली आने के बाद नवदीप डिप्रेशन का शिकार हो गया। उनके मन में सुसाइड के ख्याल आते रहते थे । इसका जिक्र उसने कई बार  अपने माता-पिता से भी किया था।माता-पिता ने उसका ध्यान रखने के लिए छोटे भाई को उसके पास भेज दिया। इसके साथ ही 30 दिसंबर को नवदीप ने अपनी मां को वाट्सएप पर सुसाइड थॉट का मैसेज भेजा था। पुलिस को जांच के दौरान एक किताब मिली है, जिसका शीर्षक ‘लाइफ आफ्टर डेथ’ है। उसके लैपटॉप की सर्च हिस्ट्री देखने पर पता चला है कि वह मौत के बाद के रहस्य को जानने के लिए इंटरनेट पर विभिन्न साइटों पर जाता था। जांच में यह भी पता चला है वह इंटरनेट पर मौत के बाद के रहस्य और आत्महत्या करने के तरीके ढूंढ रहा था।