Breaking News
स्वास्थ्य विभाग में मंत्री का आदेश रद्दी की टोकरी में | मोदी सरकार के 4 साल : बैलगाड़ी, ठेला अैर साइकिल पर सवार होकर कांग्रेस ने मनाया 'विश्वासघात दिवस' | मैं सेवा की ऐसी लकीर खींचूंगा, जिसे मेरे मरने के बाद भी मिटाया न जा सकेगा : शिवराज | पुलिसवाले के दोस्त ने युवतियों से की छेड़छाड़, चप्पलों से हुई पिटाई, खाकी पर उठे सवाल | बैतूल में आज एक और किसान ने की आत्महत्या, सड़क पर शव रख ग्रामीणों ने किया चक्काजाम | MP : मोदी सरकार के चार साल, कांग्रेस मना रही 'विश्वासघात' दिवस | विश्वासघात दिवस : कांग्रेस नेता ने गिनाई मोदी सरकार की 5 नाकामियां | VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल | VIDEO : विधायक ने 'हमसफ़र' को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, पहले दिन यात्री दिखें उत्साहित | 6 जून से पहले जिलों में जाकर किसानों को मनाएंगे मुख्यमंत्री  |

INDIA के इस गांव में रहते है करोड़पति ही करोड़पति, एशिया के सबसे अमीर गांवों में हुआ शुमार

नई दिल्ली।

आज हम आपको ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे है, जिसमें सभी लोग करोड़पति है।जिसमें हर परिवार के पास कम से कम एक करोड़ तो जरुर है।इस गांव का नाम बोमजा है, जो अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में है।इनके करोड़पति बनने के पीछे भी एक कहानी है।

दरअसल,सरकार द्वारा अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले के गांव बोमजा में भारतीय सेना का गैरिसन बनाने के लिए ज़मीनों का अधिग्रहण किया गया था, जिसकी एवज में गांव के रहने वालों को मुआवज़ा वितरित किया गया।यह मुआवजा प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू द्वारा 31 जमींदारों को दिया गया है। सीएम ने जमींदारों को कुल 40,80,38,400 रुपए मुआवजे के तौर पर दिए है, जिसमें सबसे अधिक मुआवजे की राशि, 6,73,29,925 रुपए रही, जबकि एक अन्य को 2,44,97,886 रुपए की राशि का चेक दिया गया और बाकी बचे अन्य 29 लाभार्थियों को 1,09,03,813 रुपए की राशि का चेक सौंपा गया। इसके बाद इस गांव का हर परिवार करोड़पति हो गया है।

सीएम ने ट्वीट कर दी जानकारी

इस संबंध में सीएम खांडू ने ट्वीट कर जानकारी दी है।उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी राशि वितरण के बाद बोमजा गांव सबसे अमीर गांवों में से एक बन गया होगा।केंद्र की मदद से अरुणाचल प्रदेश तेजी से प्रगति कर रहा है। अरुणाचल को रेल, हवाई मार्ग, डिजिटल और सड़क के जरिए जोड़ने पर भी जोर दिया जा रहा है। उन्होंने लंबे समय से लंबित मुआवजा राशि को मंजूरी देने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को भी धन्यवाद दिया है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...