Breaking News
जूडा का अनोखा विरोध, MYH के सामने लगाई समानांतर ओपीडी | संगठन नहीं शिवराज के चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगी भाजपा | अटकलों पर लगा विराम, किसी भी कीमत पर नही बिकेगा किशोर कुमार का पुश्तैनी घर | अंतर्राज्यीय चंदन तस्कर गिरोह का पर्दाफाश, वर्दी का रौब दिखाकर करते थे तस्करी | शर्मनाक : 4 साल की मासूम से दुष्कर्म की कोशिश, आइसक्रीम का लालच देकर ले गया था आरोपी | दर्दनाक हादसा : स्कूल जा रहे बच्चों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत, | नपा के खिलाफ ठेकेदार ने शुरु की लोटन यात्रा, CMO बोले- नही मिलेगा एक भी पैसा | VIDEO : सरकार के खिलाफ कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, आम चूसकर गुठलियां फेंकी | शिवराज जी, आप चिंता छोड़ जनआशीर्वाद यात्रा निकाले, मैं जनता को बताउंगा सच्चाई : कमलनाथ | आज से जूडा का आंदोलन शुरु, मांगे पूरी ना होने पर दी हड़ताल की चेतावनी |

MP : कर्ज से फिर हारा अन्नदाता, फांसी लगाकर दी जान

उज्जैन

मध्यप्रदेश में किसानों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है। ताजा मामला उज्जैन के से 26 किलोमीटर दूर भैरवगढ़ के धनड़ा भल्ला गांव  का है। यहां मंगलवार को एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि किसान के पिता माधूलाल वाघेला पर बैंक का 1.73 लाख रुपए का कर्ज  बकाया था और पांच दिन पहले ही कोर्ट से लोक अदालत में शामिल होने के लिए नोटिस भेजा गया था।इसके साथ ही विद्युत मंडल का बकाया बिल का नोटिस भी पहुंचा था। इससे किसान का बेटा दिनेश वाघेला परेशान हो गया और तनाव मे रहने लगा और फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

जानकारी के अनुसार, उज्जैन के पास बलडा के रहने वाले किसान ने अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। किसान वाघेला ने साल 2012 में बैंक ऑफ इंडिया की पानबिहार स्थित शाखा से संत रविदास आवास योजना में 1.73 लाख का लोन मिला था। एक लाख की इसमें शासन की सब्सिडी भी थी। इसके बाद भी बैंक ने 1 लाख 73 हजार 491 रुपए की बकाया बता रही है।  इसके अलावा बिजली विभाग का बकाया भी करीब 20 हजर रुपये के करीब परिवार पर बकाया था।  इधर दो दिन पहले ही बिजली विभाग से नोटिस आया था और वहीं घर के कर्ज को लेकर भी कुर्की वारंट घर पंहुच गया। दोनों कर्जों के चुका ना पाने की स्थिति में दिनेश ने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। वही परिजनों ने कर्ज माफी की मांग की है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...