MP : कर्ज से फिर हारा अन्नदाता, फांसी लगाकर दी जान

उज्जैन

मध्यप्रदेश में किसानों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है। ताजा मामला उज्जैन के से 26 किलोमीटर दूर भैरवगढ़ के धनड़ा भल्ला गांव  का है। यहां मंगलवार को एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि किसान के पिता माधूलाल वाघेला पर बैंक का 1.73 लाख रुपए का कर्ज  बकाया था और पांच दिन पहले ही कोर्ट से लोक अदालत में शामिल होने के लिए नोटिस भेजा गया था।इसके साथ ही विद्युत मंडल का बकाया बिल का नोटिस भी पहुंचा था। इससे किसान का बेटा दिनेश वाघेला परेशान हो गया और तनाव मे रहने लगा और फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

जानकारी के अनुसार, उज्जैन के पास बलडा के रहने वाले किसान ने अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। किसान वाघेला ने साल 2012 में बैंक ऑफ इंडिया की पानबिहार स्थित शाखा से संत रविदास आवास योजना में 1.73 लाख का लोन मिला था। एक लाख की इसमें शासन की सब्सिडी भी थी। इसके बाद भी बैंक ने 1 लाख 73 हजार 491 रुपए की बकाया बता रही है।  इसके अलावा बिजली विभाग का बकाया भी करीब 20 हजर रुपये के करीब परिवार पर बकाया था।  इधर दो दिन पहले ही बिजली विभाग से नोटिस आया था और वहीं घर के कर्ज को लेकर भी कुर्की वारंट घर पंहुच गया। दोनों कर्जों के चुका ना पाने की स्थिति में दिनेश ने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। वही परिजनों ने कर्ज माफी की मांग की है।


"To get the latest news update download tha app"