न्याय के लिए विदिशा से भोपाल पहुंची रेप पीड़िता, पुलिस पर लगाया कार्रवाई ना करने का आरोप

विदिशा।

मध्यप्रदेश के विदिशा जिले में रेप का शिकार हुई 14 वर्षीय पीड़िता आज शनिवार को अपने परिजनों के साथ प्रदेश कांग्रेस कार्यालय भोपाल पहुंची। यहां पहुंचकर युवती ने पुलिस पर आरोपी के खिलाफ कार्यवाही ना करने का आरोप लगाया है।पीड़िता का आरोप है कि उसके द्वारा थाने में शिकायत के बावजूद दीपना खेड़ा थाना प्रभारी रचना ने शिकायत दर्ज नही की है।वही पीड़िता ने बताया कि उसपर बयान बदलने का दवाब बनाया जा रहा है।अभी तक पुलिस के द्वारा अपराधी गिरफ्तार नहीं किया गया है।पीड़िता ने अपराधी का नाम पहलवान बताया है। पीड़िता विदिशा जिले के सिरोंज तहसील के ग्राम अहमदाबाद खिल्ली की रहने वाली है।

जानकारी के अनुसार, सिरोंज तहसील के ग्राम अहमदाबाद खिल्ली की रहने वाली प्रियंका अहिरवार 14  फरवरी को अपने चाचा भरत सिंह अहिरवार के यहां मुंडन कार्यक्रम में गई हुई थी, जहां वो रात में हैंडपंप से पानी भरने गई हुई थी, तभी गांव का पहलवान पिता श्याम लाल दारु के नशे मे वहां पहुंचा और पानी पिलाने की बात करने लगा।तभी वह पानी भरकर लौट रही थी ,तभी पीछे से पहलवान वहां पहुंचा और उसका मुंह दबोच लिया और खेत में ले गया। जहां उसके साथ उसने दुष्कर्म किया और उसे दुश्कर्म के बाद  सड़क किनारे फ़ेंक दिया।जैसे-तैसे घायल पीड़िता विदिशा थाने पहुँची तो वहां उससे महिला टीआई ने उल्टा मारपीट कर दी। इसके साथ ही उसके  परिजन को भी टॉर्चर किया। जब यहां कार्रवाई नहीं हुई तो अपने परिजनों के साथ भोपाल पहुंची  और  विदिशा महिला थाने की टीआई पर प्रताड़ना का आरोप  लगाया।पीड़िता का आरोप है कि उसके द्वारा थाने में शिकायत के बावजूद दीपना खेड़ा थाना प्रभारी रचना ने शिकायत दर्ज नही की है।वही पीड़िता ने बताया कि उस पर बयान बदलने का दवाब बनाया जा रहा है।अभी तक पुलिस के द्वारा अपराधी गिरफ्तार नहीं किया गया है।पीड़िता ने अपराधी का नाम पहलवान बताया है। पीड़िता विदिशा जिले के सिरोंज तहसील के ग्राम अहमदाबाद खिल्ली की रहने वाली है।