कैसे बनती है दुनिया की सबसे महंगी कॉफी, जानकर हैरान हो जाएंगे आप

जब मूड अच्छा हो, जब मूड खराब हो, जब फिल्म देख रहे हों, जब दोस्तों के साथ गप्पे मार रहे हों, अकेले हों या जब किसी पार्टी में हों...ऐसी कौन की चीज़ है जो हमेशा आपको रिफ्रेश कर देती है, तरोताज़ा कर देती है और एक चुस्ती से भर देती है। जी हां..हम बात कर रहे हैं कॉफी की...चाहे वो गर्मागर्म कॉफी से भरा मग हो चाहे कोल्ड कॉफी का, चाहे ब्लैक कॉफी हो चाहे झाग वाले दूध से भरपूर या आईसक्रीम वाली मजेदार कॉफी। शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा, जिसे कॉफी किसी न किसी रूप में पसंद न हो। आजकल शहरों में कई तरह के कैफे भी खुल गए हैं, जहां तरह तरह की मज़ेदार कॉफी मिलती है, यहां बैठकर आप आराम से कॉफी पीते हुए, म्यूज़िक सुनते हुए अपना काम कर सकते हैं या दोस्तों की महफिल जमा सकते हैं।

दुनियाभर में कॉफी की कई वैरायटी मौजूद है, इसे बनाने पीने-पिलाने के भी सैकड़ों तरीके हैं। लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं दुनिया की सबसे महंगी कॉफी के बारे में। इसके बारे में जानकर शायद आप चौंक जाएं या मन में कोई अजीब सा भाव पैदा हो जाए, लेकिन इस बेहद महंगी कॉफी की कहानी है ही कुछ अलग सी, जुदा सी।

इस कॉफी का नाम “सिवेट कॉफी” है, ये दुनिया की सबसे महंगी कॉफी में से एक मानी जाती है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 20 से 25 हजार रुपये किलो है। अब सुनिये इसे बनाने का तरीका..यह कॉफी सिवेट नाम की बिल्ली के मल में निकले बिना पचे कॉफी के बीन (बीज) से तैयार की जाती है। कॉफी के पकने के चरण में सिवेट बिल्ली कॉफी की चेरी को खाती है जिसका गूदा वह पचा लेती है लेकिन गूदे के अंदर के बीज को पचा नहीं पाती। यही बीन मल परित्याग के समय साबुत निकल जाता है। सिवेट बिल्ली कॉफी बीन्स पकने के चरण में इसे खाती है और नहीं पचे हुए बीन्स जब उसके मल से निकलने पर उसका संग्रह कर उसका प्रसंस्करण किया जाता है और फिर उसकी बिक्री की जाती है। सिवेट कॉफी को लुवर्क कॉफी भी बोला जाता है। यह इसलिए महंगा है क्योंकि इस कॉफी को तैयार करने की प्रक्रिया बेहद जटिल है। इस कॉफी के बेहद पोषक होने का दावा भी किया जाता है और इसके बीन्स को प्राप्त करने के लिए काफी खर्च करना पड़ता है। सिवेट कॉफी को खाड़ी देशों और यूरोप में संभ्रांत उपभोक्ता चाव से पीते हैं।

इस कहानी को जानने के बाद में दुनियाभर में इस कॉफ़ी के चाहने वालों की लंबी फेहरिस्त है। लोग इसके एक कप के लिए 11 हजार रूपये तक चुकाने को तैयार होते हैं। खास बात ये कि दुनिया की इस सबसे महंगी कॉफी 'सिवेट' का उत्पादन भारत में भी शुरू हो गया है। कर्नाटक के कुर्ग जिले में इसका उत्पादन हो रहा है। भारत एशिया में कॉफी का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक देश है, अब तक यहां अलग अलग तरीके की कई कॉफी मिलती थी, अब उनमें सिवेट का नाम भी शामिल हो गया है।

"To get the latest news update download the app"