रिलीज होते ही ‘आर्टिकल 15’ पर बवाल, ब्राह्मण समाज ने किया प्रदर्शन

brahmin-outfit-protests-against-ayushmann-khurranas-article-15-movie-in-mp-

ग्वालियर।  शहर के डीबी मॉल के आईनेक्स सिनेमा में आज से प्रदर्शित फिल्म “आर्टिकल 15” विवादों में आ गई है। ब्राह्मण समाज ने फिल्म में उनकी छवि को धूमिल करने के आरोप लगाते हुए इसका विरोध किया।  संगठन के करीब एक सैकड़ा लोगों ने मॉल में पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया। डीबी मॉल में हंगामे की खबर मिलते ही जिला प्रशासन एवं भारी संख्या में पुलिस बल पहुंच गया जिसके बाद प्रदर्शन कर रहे ब्राह्मण समाज के लोगों को शांत कराकर मॉल से बाहर निकाला गया। प्रदेश के अलग अलग जिलों में इस तरह के प्रदर्शन किये गए हैं, फिल्म पद्मावती को लेकर जिस तरह विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था, अब  “आर्टिकल 15” को लेकर भी ऐसे बवाल की आशंका के चलते पुलिस भी अलर्ट हो गई है| 

डायरेक्टर अनुभव सिन्हा की  फिल्म “आर्टिकल 15” शुक्रवार से सिनेमाघरों में रिलीज हो गई।  ग्वालियर के डीबी मॉल में आईनॉक्स मल्टीप्लेक्स में इसका प्रदर्शन किया गया|आयुष्मान खुराना स्टारर इस फिल्म में समाज की  धार्मिक बुराइयों को टारगेट किया गया है। लेकिन विरोध प्रदर्शन करने पहुंचे ब्राह्मण संगठन के लोगों का आरोप है कि फिल्म में ब्राह्मण समाज की छवि खराब करने का प्रयास किया गया है, जिसको लेकर वे सिर्फ जय श्रीराम के नारे लगाते हुए फिल्म का विरोध कर रहे हैं| फिल्म निर्माताओं की ओर से दावा किया गया है कि यह फिल्म सत्य कथा पर आधारित है लेकिन फिल्मकार ने घटना के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ कर  ब्राह्मण समाज की छवि को खराब करने का प्रयास किया है ऐसे में इस फिल्म के प्रदर्शन को तुरंत रोका जाना चाहिए। 

फिल्म पर रोक की मांग 

जिस समय ब्राह्मण समाज का प्रदर्शन हो रहा था मॉल में फिल्म चल रही थी और अचानक नारेबाजी होने पर हंगामे जैसा माहौल बन गया। हंगामे की खबर जैसे ही जिला प्रशासन और पुलिस को लगी वैसे ही एसडीएम के साथ भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और प्रदर्शन कर रहे ब्राह्मण संगठन के लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया और पूरी स्थिति को अपने काबू में किया । ब्राहमण समाज व लोगों की तसल्ली के लिए एसडीएम अनिल बनवारिया के साथ एडिश्नल एसपी सतेंद्र सिंह तोमर ने इस  फिल्म को देखने का फैसला किया जिसके बाद ही तय किया जाएगा कि यह फिल्म के प्रदर्शन को रोका जाए या नहीं ।  हालांकि फिल्म का प्रदर्शन नहीं रोका गया लेकिन प्रदर्शनकारियों ने फिल्म पर रोक लगाए जाने की मांग कलेक्टर से की है।