जानिए! इंदौर सीट पर लड़ेंगे लालवानी, क्या कहा टिकिट मिलने के बाद लालवानी ने सबसे पहले

इंदौर। आकाश धोलपुरे। 

इंदौर सीट पर आखिरकार सस्पेंस खत्म हो गया है। बीजेपी ने शंकर लालवानी को यहां से उम्मीदवार घोषित किया है। इससे पहले कई नामों पर कयास लगाए जा रहे थे लेकिन वर्तमान सांसद सुमित्रा महाजन ने दिल्ली में केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा करने के बाद इस नाम पर आखिरकार मुहर लग गई है। दरअसल, बीजेपी प्रत्याशी को लेकर बीते कई दिनों से अटकलों का बाजार गर्म था जिसके बाद कई नामो पर चर्चा चल रही थी और पार्टी का एक धड़ा 3 दिन पहले उछले शंकर लालवानी के नाम को लेकर विरोध जता रहा था आखिर में ताई के बाद पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान लालवानी के नाम पर अड़े रहे जिसके चलते इंदौर आईडीए के पूर्व अध्यक्ष और बीजेपी के पूर्व नगर अध्यक्ष शंकर लालवानी के नाम पर मुहर लग गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एन वक्त पर ताई के अलावा शिवराज सिंह चौहान ने शंकर लालवानी के नाम पर सहमति जताई जिसके चलते वो इंदौर के प्रत्याशी बन पाए। अब उनका सीधा मुकाबला कांग्रेस के पंकज संघवी से होना है जो आज ही एक लाख मतो से जीत का दावा कर चुके है। इधर, बीजेपी का एक खेमा अभी भी नाराज है लेकिन लोकसभा उम्मीदवार शंकर लालवानी ने उम्मीद जताई है कि पार्टी के निर्णय को हर कार्यकर्ता मानेगा। वही लालवानी ने ये भी कहा कि उन सभी लोगो का धन्यवाद जिन्होंने उनके नाम पर सहमति जताई। लालवानी ने बताया कि कोई एक चुनाव नहो लड़ता बल्कि पूरी पार्टी चुनाव लड़ती है ऐसे में जीत की उम्मीद भी लालवानी को है। बता दे कि लोकसभा स्पीकर ने इंदौर की प्रतिष्ठित सीट पर तीन दशक तक राज किया है और वे मतदाताओं को लुभाना जानती है हालांकि वे इस बार सीधे चुनावी मैदान में नही है लेकिन उनके समर्थक लालवानी चुनावी जंग में उतरे है लिहाजा उम्मीद की जा सकती है कि इंदौर में बीजेपी एक बार फिर कांग्रेस को टक्कर देकर बाजी मारने में कामयाब हो सकती है।


"To get the latest news update download the app"