पहले तो दिया तलाक, फिर पत्नी ने कराई पति की उसकी गर्लफ्रेंड से शादी, जानिए पूरा मामला

पत्नी ने पति से कहा कि मैं आपकी जिंदगी में एक अवांछित चीज बनकर नहीं रह सकती, अगर आपके जीवन में कोई और है, तो आप दोनों को ही साथ रहना चाहिए।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। हमने अक्सर एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर (Extra marital Affair) को लेकर पति-पत्नी (husband-wife) को लड़ते हुए देखा है। एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर (Extra Marital Affair) के चलते कई बड़ी वारदातें भी हो जाती है। पर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) से एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक पत्नी (Wife) ने अपने पति की शादी उसकी गलफ्रैंड (husband marriage with girlfriend) से करवा दी। औरत समर्पण (dedication) और त्याग (sacrifice) का पुतला कही जाती है और इस बात को भोपाल (bhopal) की एक महिला ने सिद्ध करके दिखाया है। जिसके बाद महिला की हर कोई तारीफ कर रहा है।

दरअसल, एक दंपत्ति की तीन साल पहले शादी हुई थी। दोनों के बीच एक दूसरे को लेकर कोई नाराजगी (no disputes) नहीं थी। पर महिला का पति काफी उदास (sad) रहता था। जब महिला को अपने पति की उदासी का कारण पता लगा तो महिला ने तुंरत फैसला लेते हुए पहले तो पति को तलाक (divorce) दिया और फिर उसके बाद उसकी शादी (marriage) उसकी गर्लफ्रेंड (girlfriend) से करा दी।

ये है पूरा मामला

दरअसल, 15 दिन पहले एक परेशान व्यक्ति वकील सरिता के पास पहुंचा था, जहां उसने अपनी परेशानी वकील को बताई थी। अपनी समस्या बताते हुए व्यक्ति ने बताया कि मेरी जिंदगी में एक लड़की है,जिससे में प्यार करता हूं, पर मुझे मेरी पत्नी के साथ भी कोई दिक्कत नहीं है। अपनी पत्नी की तारीफ करते हुए उस व्यक्ति ने बताया कि वो पूरी तरह से मेरे प्रति समर्पित है।

आगे व्यक्ति अपनी दुविधा रखते हुए बताता है कि क्या मैं दोनों को एक साथ नहीं रख सकता हूं। उस व्यक्ति को वकील ने पहली मीटिंग में ही बता दिया था कि कानूनी और सामाजिक तौर पर बीवी और गलफ्रेंड को रखना संभव नहीं है। बता दें कि व्यक्ति की शादी 3 साल पहले हुई थी और वो अपनी महिला मित्र को महज 17 महीनों से जानता था।

वहीं वकील ने दूसरी मीटिंग में उस व्यक्ति की महिला मित्र को मिलने के लिए बुलाया। बात चीत पर गर्लफ्रेंड काफी जिद्दी प्रत्ति हुई। गर्लफ्रेंड चाहती थी कि वो व्यक्ति अपनी पत्नी को तलाक देकर उससे शादी कर ले। वहीं उस व्यक्ति ने अपनी पत्नी को अपनी महिला मित्र के बारे में नहीं बताया था। पति का मानना था कि अगर पत्नी को ये बात पता लगी तो उसके दिल को बहुत ठेस पहुंचेगी।

 

जिसके बाद तीसरी बैठक में वकील ने पति-पत्नी को बुलाया। जिसमें पत्नी और पति से अलग-अलग बात की गई। पत्नी को अपने पति के अफेयर के बारे में कुछ पता नहीं था। जब पत्नी को पति के एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के बारे में बताया गया, तो पत्नी खुद को संभाल नहीं पाई और रोने लगी। सच्चाई का पता लगने के बाद पत्नी से वकील से एक दिन का वक्त मांगा।

एक दिन बाद खुब विचार करने के बाद पत्नी ने अपने पति को तलाक देने का फैलसा लिया। उसका कहना था कि मैं अपकी जिंदगी में एक अवांछित चीज बनकर नहीं रह सकती, अगर पति के जीवन में कोई और है तो उन दोनों को ही साथ रहना चाहिए।

वहीं इस पूरे मामले में गिल्टी पति ने अपनी पत्नी को भरण पोषण ऑफर किया। पति ने कहा कि तुम किसी और पर निर्भर ना रहो इसलिए मेरा एक घर तुम रख लो और में तुम्हें पैसे देता रहूंगा, जिससे तुम्हें अपनी जिंदगी काटने में आसानी होगी, जिसको स्वाभिमानी पत्नी ने ठुकरा दिया। पत्नी ने कहा कि मैं जब आपके जीवन में स्वीकार नहीं हूं तो आपकी संपत्ति पर कैसे हक जता सकती हूं। इसके बाद दोनों अलग हो गए। पति ने तलाक की अर्जी दायर कर दी और मंदिर में अपनी गर्लफ्रेंड से शादी कर ली।

वहीं इस पूरे मामले में वकील सरिता का कहना है कि मैंने अपने पूरे कैरियर में इतनी धैर्यवान महिला नहीं देखी। वह बताती है कि महिला ने ऑफिस से निकलने के बाद अपने पति से कहा कि घर चलो। वहीं दूसरे दिन जब दोनों को बुलाया गया तो उसने तलाक के लिए सहमति भर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here