कलेक्टर ने बालिकाओं को सिखाया सुरक्षा का पाठ

51

अशोकनगर। अशोकनगर कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा ने आज बालिकाओ को सुरक्षा का पाठ पढाया।उन्होने बालिका दिवस के अवसर पर बच्चियो को बुरा व्यवहार करने वालो के खिलाफ सख्त लहजे में एवं तल्ख़ भाषा मे निपटने की नसीहत दी ।कलेक्टर डॉ मंजू शर्मा ने राष्ट्रीय बालिका दिवस के आयोजन को संबोधित करते हुए कहा कि अगर आपके साथ कोई बदतमीजी करें तो आप का सैंडल होना चाहिए, आप का जूता होना चाहिए और आपका हाथ होना चाहिए ।इस दौरान उन्होंने अपने अनुभव बताते हुऐ कहा कि कुछ बड़े लोग एवं छोटे लोगों ने उनके खिलाफ काफी कुछ कहा ।मगर उन्होंने जवाब नहीं दिया और धैर्य बनाए रखें ।मगर इसे लोगो को एहसास कराया जाना चाहिये कि हम भी कुछ कर सकते हैं। कोई बदतमीजी करें तो हमारे देश की महिलाओं को दुर्गा का रूप धर लेना चाहिए और इसकी हमारी संस्कृति अनुमति देती है।

संजय स्टेडियम में राष्ट्रीय बालिका दिवस के आयोजन में कलेक्टर एवं विधायक अतिथि के रूप में आमंत्रित थे ।इसी दौरान कलेक्टर जब मंच पर बोलने के लिए खड़ी हुई तो बच्चियों को यह बता रही थी कि अगर उनके बारे में कोई गलत बोलता है तो यह खराबी लोगों की है। महिलाओ साथ कई स्थानों पर हुई घटनाओ के संदर्भ में बोली, कि आजकल जो भी हो रहा है उसके बाद हमें डरना नही चाहिए। अगर कोई हमसे बदतमीजी करता है तो हमारे हाथ में सैंडल होना ,चाहिए जूता होना चाहिए और हाथ होना चाहिए ।उन्होंने सीधे-सीधे बच्चियों को यह संदेश दिया कि किसी भी स्थिति में खुद को कमजोर नहीं समझना चाहिए। मंजू शर्मा ने कहा कि जीवन मे कभी विपरीत हालत की उन्होंने परवाह नहीं की और हमेशा दृढ़ विश्वास के साथ अपना काम करती रहें। साथ ही कलेक्टर ने सख्त लहजे में यह भी कहा कि ऐसे लोग यह जरूर समझ ले कि हम उनके खिलाफ कुछ भी कर सकते हैं

विधायक बोले दुर्गा का रूप धारण करो कलेक्टर से पहले इस कार्यक्रम को अशोकनगर के कांग्रेसी विधायक जजपाल सिंह जज्जी ने भी संबोधित किया ।उन्होंने बच्चियों को इंदिरा गांधी एवं लक्ष्मी बाई के बारे में बताते हुऐ प्रेरणा लेने की सीख दी। उनका कहना था कि अगर कोई आपके साथ बदतमीजी करता है और गलत नजर उठाता है। तो आपको दुर्गा का रूप धर लेना चाहिए और हमारी संस्कृति इसकी अनुमति भी देती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here