खेत की मेड़ पर लगे पेड़ के विवाद में किसान को ज़िंदा जलाया

919

भिंड। मध्य प्रदेश के भिंड जिले में खेत की मेड़ पर लगा बेरी का पेड़ एक किसान की हत्या का कारण बन गया| पेड़ पर मालिकाना हक के विवाद में दबंगों ने पहले धमकी दी और फिर रात में झोपड़ी में आग लगाकर किसान को जिंदा जला दिया|  पुलिस ने दो लोगों पर हत्या का केस दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक दिल दहला देने वाली यह वारदात मंगलवार रात नौ बजे बरोही थाने के वीरमपुरा गांव की है| वीरमपुरा गांव निवासी पंचम सिंह (35) पुत्र संतोष नरवरिया ने पुलिस को बताया कि मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे बड़े भाई लाल सिंह (50) पुत्र संतोष नरवरिया का गांव के ही नेग उर्फ फोदल नरवरिया पुत्र नाथू नरवरिया से खेत की मेड़ पर लगे बेरी के पेड़ पर मालिकाना हक को लेकर विवाद हो गया था। उन्होंने दोपहर में ही लाल सिंह को चेतावनी दी थी कि वे उसे जिंदा नहीं छोड़ेंगे। इसके बाद नौ बजे वे भाई लाल सिंह के लिए भोजन लेकर खेत पर गए तो देखा कि ट्यूबवेल की झोपड़ी में आग लगी थी। पास पहुंचे तो दो लोग भाग गए। जलती झोपड़ी के अंदर से लाल सिंह आग से झुलसी हुई हालत में निकले और झोपड़ी के बाहर आकर उल्टे गिर पड़े। 

पंचम सिंह ने पुलिस को बताया लाल सिंह ने कहा कि नेग सिंह और मोहर सिंह भदौरिया पुत्र नथई भदौरिया और अन्य लोगों ने मिलकर झोपड़ी को आग लगाई है। पंचम ने आग की लपटों में घिरे लाल सिंह को बचाने की कोशिश की, लेकिन उनकी मौके पर ही मौत हो गई। पंचम सिंह ने रात में ही बरोही थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पड़ताल की। पंचम की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपित नेग उर्फ फोदल नरवरिया, मोहर सिंह भदौरिया पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here