कुवैत से इंदौर लौटे 10 भारतीय पॉजिटिव, दहशत में एयरपोर्ट प्रशासन

इंदौर।आकाश धोलपुरे

कुवैत से सीधे भोपाल लौटने वाले 240 भारतीयों को देश मे लाने के लिए 13 मई को तैयारी कर ली गई थी लेकिन इंदौर एयरपोर्ट को इंटरनेशनल एयरपोर्ट का दर्जा होने के चलते 2 विशेष विमानों की लैंडिंग रात 9 बजे इंदौर में हुईं। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी यात्रियों स्क्रीनिंग की थी और बसों के जरिये विदेश से आये यात्रियों को भोपाल भेजा गया था। जिसके बाद भोपाल में यात्रियों को क्वारेंटाइन कर उनके नमूने जांच के लिए भेजे गए और 10 प्रवासी भारतीयों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया।

इस बात की खबर जैसे ही इंदौर एयरपोर्ट प्रबंधन लगी वैसे ही इंदौर के देवी अहिल्याबाई बाई अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट का चप्पा चप्पा सेनेटाइज कराया गया। वही खबर मिलने के बाद एयरपोर्ट स्टाफ सहित सीआईएसएफ के अधिकारियों और जवानों, कस्टम तथा इमिग्रेशन विभाग के स्टाफ में दहशत का माहौल है। जानकारी के मुताबिक स्क्रीनिंग के दौरान सीआईएसएफ के एक अधिकारी यात्रियों की नजदीक से जांच कर रहे थे लिहाजा एतियाहत के तौर पर उन्हें आइसोलेट किया गया है। हालांकि इस मामले के सामने आने के बाद अब जितने भी लोग यात्रियों के अलावा इंदौर एयरपोर्ट पर मौजूद थे उनको क्वारेंटाइन किया जाना जरूरी है वही भोपाल ले जाने वाली बस के स्टाफ पर भी खतरा बना हुआ है।