इंदौर में 12 और कोरोना पॉजिटिव, MP में मरीजों की संख्या पहुंची 98

इंदौर। आकाश धौलपुरे।
एमपी के इंदौर शहर में स्थिति दिनों दिनों बिगड़ती जा रही है। अब शहर में 12 और नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। 12 पॉजिटिव में एक जूनियर डॉक्टर भी शामिल है। स्वास्थ्य विभाग के मेडिकल बुलेटिन में कोरना पॉजिटिव की पुष्टि कर दी गई है।इसमें अब तक 6 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। जिसमें इंदौर में तीन, खरगोन में एक , उज्जैन में दो की मौत हो चुकी है। जबलपुर में 8 कोरोना पॉजिटिव मरीज तो।भोपाल में 4 कोरोना पीड़ित मरीज है।इसस पहले इंदौर में मंगलवार तक 44 कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, बुधवार को  इनकी संख्या में भारी इजाफा हुआ है।

दरअसल, प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो की संख्या में हर रोज बढ़ोतरी देखी जा रही है। दरअसल, इंदौर जिला प्रशासन को आशंका है कि पॉजिटिव मरीजो के मामले जरूर सामने आएंगे जिसके लिए प्रशासन ने पहले ही ना सिर्फ खुद को बल्कि शहर की जनता को मेंटली प्रिपेयर रहने की समझाइश दी है। बुधवार रात को एमजीएम मेडिकल कालेज की वायरोलॉजी लैब द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में 12 और पॉजिटिव मरीज सामने आए जिसके इंदौर में पॉजिटिव मरीजो की संख्या 75 तक जा पहुंची है। बता दे कि अकेले इंदौर में अब तक 3 कोरोना पॉजिटिव मरीजो की मौत हो चुकी है।रिपोर्ट के अनुसार तंजीम नगर के तीन पुरुष पॉजिटिव पाए गए हैं। एक दिन पहले इसी इलाके से एक ही परिवार के 9 सदस्य पॉजिटिव मिले थे। इसके अलावा चंदन नगर से 80 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई है। यह अब तक की सबसे उम्रदराज पॉजिटव महिला है। खजराना और स्नेहलतागंज से 38 वर्षीय पुरुष और 53 वर्षीय महिला पॉजिटिव पाई गई है।ऐसे में अब मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या अब 98 हो गई है।

इधर, इंदौर में गायनकलॉजी विभाग में कार्यरत मेडिकल छात्रा भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने पॉजिटिव डॉक्टर की पुष्टि कर बताया कि उनके साथ मे सम्पर्क में आये 20 और लोगो का परीक्षण कराया जाएगा। बताया ये भी जा रहा है कि मेडिकल की पढ़ाई कर रही छात्रा स्त्री रोग विभाग में कार्यरत है और वह 17 से 25 मार्च के बीच उत्तरप्रदेश के लखनऊ में थी। संभावना जताई जा रही है कि छात्रा लखनऊ प्रवास के संक्रमित हो गई होगी । मेडिकल को छात्रा झांसी निवासी 3 परिजन भी कोरोना पॉजिटिव है। इस मामले के सामने आने के बाद साथी 13 डॉक्टर को फिलहाल, क्वाण्टाइन किया गया है।

इधर, एमजीएम मेडिकल कॉलेज के हेल्थ बुलेटिन के सामने आने के बाद ये जानकारी भी सामने आई है कि 1 अप्रैल की रात को 9 बजे तक भर्ती 32 मरीजो में 24 मरीजो के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है वही 8 मरीजो की स्थिति गम्भीर बनी हुई है। 1 अप्रैल को एमजीएम मेडिकल लैब में 65 सैम्पल की जांच हुई जिसमें 41 मरीजो के सैम्पल निगेटिव आये है वही 12 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए इसके अलावा 12 सैम्लप देर रात तक प्रक्रियागत थे।