आईपीएल मैच में सट्टा लगाते दो भाई गिरफ्तार, 63 लाख नगदी सहित पिस्टल-कारतूस बरामद

जहाँ 1 सरकारी कर्मचारी अपने भाई के साथ आईपीएल में सट्टे खिलाने का काम कर रहा था। पुलिस टीम को क्रिकेट से खिलाए जाने की सूचना शनिवार देर रात मिली।

आईपीएल

सागर, डेस्क रिपोर्ट। आईपीएल(ipl) सीजन के दौरान अवैध सट्टा व्यापार तेजी से काम कर रहा है। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने इन अवैध सटोरियों पर नकेल कसना शुरू कर दिया है। इसी बीच शनिवार मध्य प्रदेश के सागर जिले पुलिस ने सट्टा खिलाते गिरोह का पर्दाफाश किया। सट्टाधारियों के पास से पुलिस ने 63 लाखों रुपए नगरी भी बरामद किए हैं। जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने दोनों मामले में आरोपियों के खिलाफ सट्टा एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

दरअसल मामला मध्य प्रदेश के सागर जिले का है। जहाँ 1 सरकारी कर्मचारी अपने भाई के साथ आईपीएल(ipl) में सट्टे खिलाने का काम कर रहा था। पुलिस टीम को क्रिकेट से खिलाए जाने की सूचना शनिवार देर रात मिली। जिसके बाद पुलिस ने गौरी शंकर मंदिर के पीछे मकान में दबिश दी। मकान के अंदर से पुलिस को वीरू और रिप्पी साहू नामक 2 भाई क्रिकेट सट्टा लगाते दबोचे गए।

ये भी पढ़े: पुलिस ने फिर पकड़ा आईपीएल का सट्टा, सात आरोपी गिरफ्तार

आरोपियों के पास से पुलिस को 63 लाख 9 हजार रुपए नगद, एक पिस्टल, दो कारतूस और तीन फोन बरामद हुए हैं। बताया जा रहा है कि आरोपी गौरव सरकारी कर्मचारी है। जो गढ़ाकोटा कृषि मंडी में पदस्थ है।

वही इन दोनों आरोपियों के मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर कोतवाली पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दो और सटोरियों को गिरफ्तार किया। उनके पास से भी पुलिस को 4 मोबाइल मिले। बता दें कि पिछले दिनों चेन्नई सुपर किंग और रायाल चैलेंजर्स बेंगलुरु जैसे बड़े टीमों का मैच चल रहा था। जिनमें दोनों भाई आईपीएल मैच पर सट्टा लगवा रहे थे।

ये भी पढ़े: भोपाल में बैठा बेटा पिता के साथ खिलाता था आईपीएल सट्टा

हालांकि यह पहली घटना नहीं है जो आईपीएल मैच में सट्टा लगाते आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। भोपाल में  एक युवक अपने पिता की मदद से आईपीएल का सट्टा खिला रहा था। जिसकी मुखबिर से मिली सूचना के बाद कोतवाली पुलिस ने आईपीएल सट्टेबाजी का भांडाफोड़ करते हुए सटोरिये सहित सट्टेबाज नगर के हरिओम नगर राजेन्द्र पिता रामलाल बोपचे को गिरफ्तार किया था, जबकि भोपाल में बैठकर पिता के साथ मिलकर आईपीएल सट्टा खिला रहा आरोपी युवक लक्की बोपचे फरार है, जिसकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

वहीं इससे पहले रतलाम में इसी क्रम में पुलिस ने दो स्थानों पर दबिश देकर आईपीएल सट्टे का पर्दाफाश किया था। कोविड काल में बंद होने के बाद इसके मालिक ने इसे अवैध और अनैतिक कमाई का जरिया बनाकर किराए पर कमरा संचालित करने के काम में लगा दिया था, जिसमे लोग धड़ल्ले से आईपीएल का सट्टा संचालित कर रहे थे। यहां पर भी थाना स्टेशन रोड पुलिस ने कार्रवाई कर 3 सटोरियों को गिरफ्तार कर सट्टा खिलाने के उपकरण जब्त कर मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here