नदी में कार गिरने से 2 बीजेपी नेताओं का निधन, सीएम ने जताया शोक

मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल और भाजपा अन्य पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के चमोली जिला अध्यक्ष कुलदीप सिंह चौहान का निधन हो गया है।

निधन

देहरादून, डेस्क रिपोर्ट। विवार की रात भारतीय जनता पार्टी के लिए एक बुरी रात साबित हुई। उत्तराखंड के चमोली जिले के पास एक कार के अलकनंदा नदी में गिरने से 2 दिग्गज भाजपा नेताओं की मौत हो गई। इसकी खबर मिलते ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दोनों नेताओं की मौत पर दुख जताया है।

बताया जा रहा है कि दुर्घटना उत्तराखंड के चमोली जिले में रविवार की रात घटी है। जब दोनों नेता कार से ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर गुजर रहे थे। तभी कार ने अपना संतुलन खो दिया और अलकनंदा नदी में गिरने की वजह से उसमें सवार दो भाजपा नेताओं की मौत हो गई। दुर्घटना में जिन नेताओं की मृत्यु हुई है। उसमें बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के पूर्व अध्यक्ष मोहन प्रसाद थपलियाल और भाजपा अन्य पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के चमोली जिला अध्यक्ष कुलदीप सिंह चौहान का निधन हो गया है।

ये भी पढ़े: जब ओवर कॉन्फिडेंस में हो गई पूर्व मंत्री की किरकिरी, बीजेपी ने ली चुटकी

वहीं घटना की जानकारी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को पता चली उन्होंने दोनों नेताओं के मृत्यु पर शोक व्यक्त किया। सीएम रावत ने लिखा कि पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा चमोली, निवर्तमान बदरी-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष तथा वर्तमान में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति के विशेष आमंत्रित सदस्य मोहन प्रसाद थपलियाल जी के आकस्मिक निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दुःख हुआ। थपलियाल जी का जाना हम सबके लिए बड़ी क्षति है।

वहीं उन्होंने आगे लिखा कि मोहन प्रसाद थपलियाल के साथ सड़क दुर्घटना में भाजपा ओबीसी मोर्चा चमोली के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष कुलदीप सिंह चौहान जी के निधन का भी अत्यंत दुःखद समाचार मिला।परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान दें और शोक संतप्त परिजनों को संबल दें।

ये भी पढ़े:  बीजेपी नेता की गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में तनाव की स्थिति

वहीं प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने भी दोनों नेताओं की मौत पर दुख जताया है। बंशीधर भगत ने कहा कि दोनों नेता भाजपा के समर्पित कार्यकर्ता रहे हैं। उनके निधन से भाजपा व समाज को अपूरणीय क्षति हुई है।इधर उनकी मौत से पार्टी में शोक लहर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here