बालाघाट, सुनील कोरे |  जिले में घटिया चांवल सप्लाई किये जाने के मामले में प्रदेश सरकार (MP Government) के निर्देश के बाद बालाघाट प्रशासन (Balaghat Administration) ने घटिया चांवल सप्लाई करने वाले राईस मिलर्स के खिलाफ कार्यवाही करना शुरू कर दिया है। बुधवार की रात तक जिले के बैहर में 5 और वारासिवनी में तीन राईस मिल को सील कर दिया गया है। इस तरह जिले की अब तक 8 राईस मिल सील कर दी गई है।

बुधवार 2 सितंबर को अनुविभाग बैहर की तहसील परसवाड़ा में कलेक्टर महोदय के आदेश के परिपालन में अनुविभागीय अधिकारी (रा) बैहर श्री गुरु प्रसाद एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में तहसील परसवाड़ा में 5 राईस मील को सील किया गया। उक्त कार्यवही तहसीलदार बैहर श्रीमती ज्योति ठाकुर, तहसीलदार परसवाड़ा नितिन कुमार चौधरी, नायब तहसीलदार केशर बनपेला, संदीप नागोसे एवं 8 पटवारी तहसील बैहर एवं परसवाड़ा के द्वारा की गई। इसी कड़ी में वारासिवनी में तीन राईस मिल को सील कर दिया गया है।

वारासिवनी एसडीम संदीप सिंह ने बताया कि राजस्व अनुविभाग वारासिवनी के अंतर्गत आने वाली 13 राईस मिल में से तीन राईस मिल को गोदाम सहित सील कर दिया गया है। इनमें खैरलांजी की दुर्गा राईस मिल, वारासिवनी की संचेती राईस मिल एवं लालबर्रा तहसील के ग्राम नैतरा की कुमार राईस मिल शामिल है। शेष 10 मिलो के सील करने की कार्यवाही 3 सितंबर को की जायेगी।