राजधानी में कोरोना विस्फोट, 57 की रिपोर्ट पॉजिटिव, कुवैत से लौटे 18 लोग भी संक्रमित

भोपाल।

राजधानी में कोरोना(corona) का कहर जारी है। वही लगातार आ रहे नए मामले प्रशासन(administration) के लिए चिंता का विषय बने हुए हैं। इसी बीच शनिवार देर रात भोपाल में एक बार फिर 57 संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट(report) पॉजिटिव(positive) आई है। जिसके साथ ही प्रदेश में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 1019 पहुंच गई है। वहीं अब तक 38 लोग कोरोना महामारी(pandemic) से मौत की चपेट में आ चुके हैं। बता दे कि पॉजिटिव आये मरीजों में जहांगीराबाद के 16 पॉजिटिव और कुवैत से लौटे 18 भारतीय शामिल हैं। सभी को सेना के 3-ईएमई सेंटर में हाल ही में क्वारेंटाइन किया जा चूका है।

दरअसल शनिवार देर रात राजधानी में कोरोना के सबसे ज्यादा 57 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें जहांगीराबाद के 16 पॉजिटिव मिलें। इसके साथ ही कुवैत से लौटे प्रवासी भारतियों में 18 की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गयी है। वहीँ आज सुबह आए 38 कोरोना पॉजिटिव में से 10 लोग एक ही परिवार के है। यहां एक डॉक्टर समेत उनके पूरे परिवार के 10 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले है। डॉक्टर मेडिकल कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर है। जिसके बाद गांधी मेडिकल कॉलेज डीन एके श्रीवास्तव के मुताबिक कुवैत से लौटे 240 प्रवासी भारतीयाें में से 16 की सेहत शनिवार को बिगड़ गई। जिसके बाद उन्हें जांच और इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल रेफर किया था। मेडिकल जांच के बाद 10 को अस्पताल के कोविड वार्ड में जांच और इलाज के लिए भर्ती किया है। इससे अस्पताल में भर्ती कोरोना संदिग्ध मरीजों की संख्या 16 हो गई है। बता दें कि कुवैत से लाैटे छह कोरोना संदिग्धों को इलाज के लिए शुक्रवार को अस्पताल में भर्ती किया गया था।

वहीँ दूसरी तरफ प्रमुख सचिव स्वास्थ्य फैज अहमद किदवई ने सभी कलेक्टर, सीएमएचओ और सिविल सर्जन को निर्देश दिए हैं कि कोरोना लक्षण जैसे बुखार, सर्दी, सूखी खांसी, हाथ पैरों में दर्द की शिकायत जैसे लक्षण वाले सामान्य मरीजों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया जाएगा। वहीँ भर्ती रोगियो में सीने में दर्द, हाथ-पैरों में झुनझुनी, अचानक स्किन में नीलापन होना और शरीर के अंगों पर लालपन और कालापन के लक्षण वाले मरीजों को डेडिकेटिड कोविड हॉस्पिटल में रेफर किया जाएगा। अधिकारीयों का कहना है कि शरीर में सामान्य लक्षण के बाद भी लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। जिसके बाद ये निर्णय लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here