कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, सैलरी में आएगा 95000 तक का उछाल, जानें कैसे

मतलब ये कि कर्मचारियों के वेतन में 540 रुपए का इजाफा होगा। आप अपने मूल वेतन के आधार पर इसका कैल्कुलेशन कर सकते हैं।

पेंशन

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। नवंबर में केंद्रीय कर्मचारियों (Government Employee) को एक और खुशखबरी मिल सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नवंबर में केंद्र की मोदी सरकार कर्मचारियों का एक बार फिर मंहगाई भत्ता (7th Pay Commission) बढ़ा सकती है, इसके तहत डीए में  3 प्रतिशत की बढोत्तरी हो सकती है।  अगर ऐसा होता है तो केंद्रीय कर्मचारियों को जल्द 28 फीसदी की जगह 31 फीसदी महंगाई भत्ता (DA Hike 2021) मिलेगा और सैलरी में बंपर उछाल आ जाएगा, माना जा रहा है कि दिवाली से पहले इसकी घोषणा हो सकती है।

यह भी पढ़े.. Government Jobs Alert 2021: यहां निकली है सरकारी भर्ती, 1.42 तक सैलरी, जल्द करें अप्लाई

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो, केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) केंद्रीय कर्मचारियों को 28 फीसदी डीए के बाद दीपावली से पहले 1 करोड़ से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनर्स का 3 प्रतिशत और DA और DR बढ़ा सकती है।ये बढ़ोतरी जुलाई से दिसंबर छमाही के लिए की जाएगी। इसके बाद कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा होकर मूल वेतन का 31 फीसदी हो जाएगा। वहीं, पेंशनर्स को भी 31 फीसदी के हिसाब से महंगाई राहत दी जाएगी। सरकार साल में दो बार महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी करती है। सरकार हर छह महीने में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी करती है।

आपको बता दें कि जनवरी 2020-21 में महंगाई भत्ता 4-4 परसेंट  और जून 2020 में 3 परसेंट की बढ़ोतरी हुई थी। इन तीन उछालों में महंगाई भत्ता कुल 11 परसेंट बढ़ा है और अब ये 28% पर पहुंचा है वही जून 2021 के 3 परसेंट की बढ़ोतरी के बाद महंगाई भत्ता 31 परसेंट (17+4+3+4+3) पर पहुंच जाएगा।माना जा रहा है कि कर्मचारियों को कम से कम 3 फीसदी डीए इजाफा मिलेगा, क्योंकि जनवरी 2021 से मई 2021 तक के ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) के आंकड़ों से इसके संकेत मिले हैं। हालांकि इसका भुगतान कब होगा, इसे लेकर कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है।

यह भी पढ़े.. MP College : कॉलेज छात्रों को बड़ी राहत, उच्च शिक्षा विभाग ने फिर तारीख बढ़ाई

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए कि मूल वेतन 18 हजार रुपए है और 28 फीसदी महंगाई भत्ता के तौर पर 5040 रुपए मिल रहे हैं। अगर इस भत्ते में 3 फीसदी का इजाफा होता है तो 5580 रुपए मिलेंगे। मतलब ये कि कर्मचारियों के वेतन में 540 रुपए का इजाफा होगा। आप अपने मूल वेतन के आधार पर इसका कैल्कुलेशन कर सकते हैं। जितना ज्यादा मूल वेतन होगा, महंगाई भत्ता भी उसी हिसाब से दी जाएगी।

यहां समझे पूरा कैलकुलेशन

28% महंगाई भत्ते पर गणना

कर्मचारी का मूल वेतन – 18,000 रुपये
नया महंगाई भत्ता (28%) – 5,040 रुपये प्रति माह
अब तक का महंगाई भत्ता (17%) – 3,060 रुपये प्रति माह
कितना बढ़ा महंगाई भत्ता- 1980 रुपये बढ़ा
वार्षिक वेतन में प्रति माह – 1980*12 = 23760 रुपये

31% महंगाई भत्ते पर गणना

कर्मचारी का मूल वेतन – 18,000 रुपये
नया महंगाई भत्ता (31%) – 5,580 रुपये प्रति माह
अब तक का महंगाई भत्ता (17%) – 3,060 रुपये प्रति माह
कितना बढ़ा महंगाई भत्ता- 2520 रुपये प्रति माह
वार्षिक वेतन में वृद्धि – 2520*12 = 30240 रुपये

28% महंगाई भत्ते पर गणना

कर्मचारी का मूल वेतन – 56,900 रुपये
नया महंगाई भत्ता (28%) – 15,932 रुपये प्रति माह
अब तक महंगाई भत्ता (17%) – 9,673 रुपये प्रति माह
कितना बढ़ा महंगाई भत्ता- 6259 रुपये प्रति माह
वार्षिक वेतन में वृद्धि – 6259*12 = 75108 रुपये

31% महंगाई भत्ते पर गणना

कर्मचारी का मूल वेतन – 18,000 रुपये
नया महंगाई भत्ता (31%) – 17,639 रुपये प्रति माह
अब तक का महंगाई भत्ता (17%) – 9,673 रुपये प्रति माह
कितना बढ़ा महंगाई भत्ता- 7966 रुपये प्रति माह
वार्षिक वेतन में वृद्धि – 7966*12 = 95,592 रुपये

नोट- यह उदाहरण के तौर पर कैलकुलेशन किया गया है, फाइनल गणित HRA समेत दूसरे और कई भत्ते जोड़ने के बाद ही आएगा और सैलरी में भी अंतर दिखेगा।