बिहार में अग्निपथ के बवाल के बीच एक बड़ा खुलासा, व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए की गई थी भीड़ इक्कठी

अग्निपथ हिंसा के बीच एक चौंकाने वाला मामला समने आया है, जहां व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर भीड़ इकठ्ठा करने का खुलासा हुआ है। बिहार के आरा जिले में एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है, जिससे दंगा जैसी स्थिति पैदा करने की साजिश रची जा रही है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। सेना में भर्ती की नई स्कीम अग्निपथ को लेकर देश में लगातार चौथे दिन भी संग्राम जारी है। प्रदर्शनकारियों ने शनिवार सुबह से सार्वजानिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया है। इस बीच जहानाबाद में युवा सड़कों पर उतर आए और आगजनी की, जहां उन्होंने एक ट्रक और एक बस को आग के हवाले कर दिया। उक्त घटना टेहटा आउट पोस्ट के पास की है।

भीड़ ने इस दौरान जमकर पथराव किया, सड़कों पर पड़े पत्थर इस बात का सबूत है। हालांकि, घटना की सूचना पाकर जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में मौके पर भारी पुलिस बल पहुंच गया है। फिलहाल, पुलिस फोर्स की ओर से प्रदर्शनकारियों को समझा-बुझाकर हालात को काबू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। फिलहाल, सवंदेनशील इलाकों में इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है।

ये भी पढ़े … जानलेवा हुआ विरोध प्रदर्शन, सिकंदराबाद में फायरिंग के दौरान एक की मौत

भारत को जलाने की पूरी कोशिश

लेकिन इस बीच एक चौंकाने वाला मामला समने आया है, जहां व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर भीड़ इकठ्ठा करने का खुलासा हुआ है। बिहार के आरा जिले में एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया है, जिससे दंगा जैसी स्थिति पैदा करने की साजिश रची जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, ग्रुप को राजा यादव नाम का व्यक्ति संचालित कर रहा है और उसने अभ्यर्थियों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में शहर के जैन कॉलेज में जुटने के लिए कहा है।

ये भी पढ़े … मध्य प्रदेश की सांसद को जान से मारने की मिली धमकी

आपको बता दे, अग्निवीर स्कीम के खिलाफ प्रदर्शन का आज चौथा दिन है, इससे पहले शुक्रवार को युवाओं ने सड़कों पर जमकर उत्पात मचाया था और आगजनी की घटनाओं को अंजाम दिया था। बिहार, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, दिल्ली-एनसीआर सहित अन्य कई जगहों पर प्रर्दशनकारियों ने सार्वजानिक संपत्ति को नुकसान, कुल मिलकर 9 ट्रेनें जलाकर खाक कर दी गई है।