अमेरिका : गर्भपात पर लगेगा प्रतिबंध?, लीक डॉक्यूमेंट में खुलासा

गर्भपात अमेरिकी राजनीति में सबसे बड़े मसलों में से एक है। प्यू रिसर्च सेंटर द्वारा 2021 में कराए गए एक सर्वे में पाया गया था कि 59 फ़ीसदी अमेरिकी व्यस्क मानते हैं की गर्भपात कानूनी होना चाहिए जबकि 39 प्रतिशत लोगों का कहना था की इसे अवैध घोषित किया जाए।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अमेरिका का शीर्ष कोर्ट देश में गर्भपात के अधिकार को खत्म कर सकता है। एक लीक डॉक्यूमेंट में इस बात का खुलासा हुआ है। पॉलीटिको की रिपोर्ट के अनुसार जस्टिस सैमुअल अलिटो ने 98 पेज का एक दस्तावेज तैयार है, जिसमे उन्होंने लिखा है कि 1973 का रो वी वेड का गर्भपात के अधिकार का फैसला बहुत गलत था। अलिटो के अनुसार इस फैसले को शुरुआत से ही गलत बताया जा रहा था।

उन्होंने आगे लिखा कि गर्भपात का अधिकार राष्ट्र के इतिहास और परंपराओं में नहीं है और यह सिर्फ रूढ़िवादी लोगों की राय है। इसका हवाला देते हुए उन्होंने रो वी वेड के तर्क को कमजोर बताया।

पॉलीटिको के मुताबिक इस लीक डॉक्यूमेंट से पता चला है कि अदालत ने रो वी वेड के नियम में संशोधन करने को लेकर वोटिंग कराई थी। रिपोर्ट्स की माने तो जुलाई के शुरुआती हफ्ते में कोर्ट इस मामले पर अपना फैसला सुना सकता है

डॉक्यूमेंट लीक होने के बाद अमेरिका में विरोध प्रदर्शन

इस डॉक्यूमेंट के लीक होने के बाद से अमेरिका में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। महिलाओं ने ‘मेरे शरीर पर प्रतिबंध’, ‘ महिलाओं के अधिकार’, ‘महिलाओं के मानव अधिकार’, ‘मेरा शरीर मेरा पर्सनल’ जैसी तख्तियां लेकर गर्भपात अधिकार के समर्थन में कोर्ट के सामने प्रदर्शन किया।

आपको बता दें गर्भपात अमेरिकी राजनीति में सबसे बड़े मसलों में से एक है। प्यू रिसर्च सेंटर द्वारा 2021 में कराए गए एक सर्वे में पाया गया था कि 59 फीसदी अमेरिकी व्यस्क मानते हैं की गर्भपात कानूनी होना चाहिए जबकि 39 प्रतिशत लोगों का कहना था की इसे अवैध घोषित किया जाए।