2-2 हजार के नकली नोट खपाने आया आरोपी गिरफ्तार, साढ़े तीन लाख के नोट बरामद

पुलिस ने बताया कि इससे पहले भी आरोपी नकली नोटों को खपाने के अपराध में 2020 में पकड़ा गया था। मौ थाने में इसके खिलाफ अपराध दर्ज है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। नकली नोटों (Fake Notes) के निर्माण और उसे मार्केट में खपाने वाले आरोपियों की तलाश में जुटी ग्वालियर एसटीएफ (Gwalior STF)  को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ (STF) ने साढ़े तीन लाख रुपये के नकली नोटों (Fake Notes) के साथ एक युवक को गिरफ्तार किया है युवक के कब्जे से दो-दो हजार के नकली नोट बरामद़ हुए है।

एसटीएफ ग्वालियर (STF Gwalior) इकाई ने भिंड जिले के मौ थाना क्षेत्र के गाँव भरोली के एक युवक को ग्वालियर में कंपू थाना क्षेत्र के नेहरू पार्क (Nehru Park) के पास से गिरफ्तार किया है। डीएसपी एसटीएफ रोशनी सिंह ठाकुर (DSP STF Roshni Singh Thakur) ने बताया कि वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर नकली नोटों (Fake Notes) से जुड़े लोगों की तलाश में एसटीएफ (STF) लगी हुई थी इसी दौरान जब पुराने अपराधियों का जब रिकॉर्ड तलाशा गया तो भिंड जिले के मौ थाने का एक आरोपी की जानकारी हाथ लगी। जब इसके बारे में पता किया गया तो मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी ग्वालियर गया है उसके पास 2-2 हजार के साढ़े तीन लाख रुपये के नोट हैं। जिन्हें वो ग्वालियर के लोकल मार्केट में खपाने की कोशिश में था। पुलिस ने सूचना के आधार पर नेहरू पार्क(Nehru Park) के आसपास घेराबंदी कर एक युवक को 2-2 हजार के 175 नोट कुल साढ़े तीन लाख रुपये के साथ गिरफ्तार कर लिया।

शुरूआती पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया है कि उसके और साथी इस काम में लगे है। ये लोग लोकल लेवल पर नकली नोटों (Fake Notes) का निर्माण करते हैं और फिर मार्केट में खपाते हैं। पुलिस ने बताया कि इससे पहले भी आरोपी नकली नोटों (Fake Notes) को खपाने के अपराध में 2020 में पकड़ा गया था। मौ थाने में इसके खिलाफ अपराध दर्ज है। इसके अलावा आर्म्स एक्ट सहित अन्य धाराओं में भी आरोपी पर 8-10 और अपराध भी दर्ज हैं। पुलिस आरोपी के अन्य साथियों की तलाश कर रही है।