रेत की अवैध खदान में दबकर युवक की मौत, खनिज विभाग और पुलिस पर लगे संलिप्तता के आरोप

जबलपुर।संदीप कुमार

जिले में लगे लॉक डाउन के बीच अवैध रेत खनन का काम जोरो पर है और ये सब हो रहा है खनिज विभाग और पुलिस की संलिप्तता से। ताजा मामला वर्धाघाट ग्राम का है। जहाँ हिरण नदी की अवैध खदान से रेत निकाल रहे एक युवक की मौत हो गई है। मृतक का नाम संतोष कुमार है जो कि मटामर गांव का रहने वाला था।

परिजनों का पुलिस पर संगीन आरोप

म्रतक के परिजनों ने बताया कि संतोष कुमार संजय बर्मन का ट्रेक्टर चलाया करता था। साथ ही लेबर का काम भी वो किया करता था।गुरुवार की रात संजय मृतक के घर आकर उसे अपने साथ ले जाता है। बताया जा रहा है कि ट्रेक्टर मालिक संजय बर्मन रेत का अवैध काम किया करता था। जिसके लिए वो मृतक और कुछ अन्य मजदूरों को हिरण नदी के अवैध खदान में ले गया। जिस समय संतोष अवैध खदान से रेत निकाल रहा था तभी खदान अचानक ही भरभरा कर गिर गई। जिसकी चपेट में आने से संतोष दब गया।सूचना मिलने पर अवैध रेत खननकर्ता मौके पर पहुँचा और शव को लेकर रांझी स्थित सरकारी अस्पताल पहुँचा और ये बताया कि अचानक संतोष की तबियत खराब हो गई है।ईलाज के दौरान संतोष की मौत हो जाती है।

पुलिस ने किया मामला दबाने की कोशिश

मृतक के परिजनों का आरोप है कि जब इस हादसे की सूचना देने के लिए हम खमरिया थाने पहुँचे। तो वहाँ पर उनकी एफआईआर दर्ज नही की गई। बाद में जब पूरा मामला मीडिया में पहुँचा तब जाकर पुलिस ने कार्यवाही करना शुरू किया।

फिलहाल शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेजा गया है साथ ही पुलिस अब इस पूरे घटनाक्रम की जांच में भी जुट गई है।