सोसाइटी के कर्ताधर्ता ने धूप में लू लगने किसानों को छोड़ा, हो रहे है परेशान

मंदसौर।तरुण राठौर

लॉक डाउन कर्फ्यू के चलते पूरा जिला बन्द है। ऐसे में किसानों को राहत पहुंचा हेतु सरकार ने समर्थ मूल्य पर गेंहू खरीदी कर रही है। जिसके पैसे सरकार सीधे किसानों के खाते में डाल रही है। जिससे निकालने के लिए किसान सोसाइटी की बैंको पर पहुंच रहे है। जहां पर सोसाइटी के कर्ताधर्ता ने बेचारो को लू लगने के लिए खुले आसमान के तले छोड़ दिया है। जिसकी वजह से किसान कागज की लाइन लगा कर गेट के पास जाकर भीड़ लगाकर खड़े है।

ऐसा ही मामला दलौदा सोसाइटी बैंक का आया है। जहां पर सोसाइटी के कर्ताधर्ता ने किसानों को सुविधा नही देते हुए लू लगने के लिए खुले आसमान के नीचे छोड़ा है।जहां पर कोरोना के बढ़ते संकट को देखे हुए सोसाइटी के कर्ताधर्ताओ ने कोई उन किसानों लिए कोई सुविधा नहीं की है। जबकि सरकार का आदेश है कि सोसाइटी में पैसे निकालने आने वाले किसानों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए साबुन से हाथ धुलाए। सोसाइटी के कर्ताधर्ता है कि नियमों को ताक पर रखते हुए उन्होंने न तो गर्मी से बचने के लिए टेंट की व्यवस्था की और नहीं पीने के पानी की।

जिसकी वजह से बेचारे किसान सोसाइटी बैंक के बाहर तेजगर्मी में तप रहे है। जब उन्हें प्यास लग रही है तो सोसाइटी में पीने का पानी नहीं है। ऐसे में वह बहुत परेशान हो रहे है। जबकि तादाब अधिक होने से परिसर के बाहर लाइन लगवाई गई है। क्योंकि बैंक कर्मी एक एक जने को नंबर आने पर अंदर ले रहे है। ऐसे में किसान मजबूरी में तेज धूप में तपने को मजबूर है क्योंकि इन दिन तापमान अपने पूरे सबाप पर है। जिसकी वजह से बेचारे किसानों को लू लगने का डर है। पर कर्ताधर्ता है कि उन्हें किसानों की कोई चिंता नही है।