जानलेवा हो सकता है ऐसा नमकीन,खाद्य विभाग की छापेमार कार्रवाई मे खुलासा

इटारसी, राहुल अग्रवाल। मुख्यमंत्री के मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत इटारसी में की गई कार्यवाही में नमकीन फेक्ट्री के कारखाने में भारी गंदगी मिली, साथ ही यहाँ जो नमकीन बनाया जाता है। उसके कच्चे माल यानी चावल दाल में कचरा,बेसन ओर मैदा में इल्ली मिली वही लाल मिर्च के नाम पर लाल पाउडर भी मिला, यह सारा मंजर देखने के बाद मौके पर मौजूद एसडीएम सहित सारा अमला हैरान हो गया कि किस तरह लोगो की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है।

जेल विभाग में ट्रांसफर, जबलपुर से भोपाल भेजे गए अधिकारी, आदेश जारी

फेक्ट्री संचालक के पुत्र विशाल सिंघवानी व आकाश सिंघवानी द्वारा एसडीएम से और नायब तहसीलदार से अभद्रता की गई, साथ ही कवरेज करने गए पत्रकारो के साथ भी अभद्रता से व्यवहार कर धक्का देकर फेक्ट्री से बाहर कर दिया और ताला लगा दिया गया, पूरे मामले में जब पत्रकारों ने सवाल किए तो एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी ने बाहर जाकर पत्रकारों से बात करने का बोला गया जिसके बाद एसडीएम द्वारा फेक्ट्री गेट के बाहर बातचीत की गई,

इटारसी की मेहमान नमकीन बनाने बाली,पटोला इंड्रस्ट्री पर, लंबे समय से गंदगी और दूषित नमकीन बनने की शिकायत मिल रही थी जिस पर आज एसडीएम व जिला खाद्य अधिकारी ज्योति बंसल द्वारा निरीक्षण किया गया जिसमें कारखाने में भारी गंदगी और दूषित खाद्य सामग्री बनती हुई पाई गई है। साथ ही प्रशासन की गाड़ियां अंदर खड़ी करवाकर बाहर से गेट बंद कर दिए गए। इस मामले में जल्द एफआईआर दर्ज की जाएगी।