मिलावट मुक्ति अभियान: मिलावटखोरों पर प्रशासन की छापेमार कार्रवाई, अमानक पदार्थ जब्त

खाद्य सुरक्षा अधिकारी पुष्प कुमार द्विवेदी की माने तो छापे के दौरान एकत्रित किये गए सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजे जाएंगे जिसकी रिपोर्ट आने के बाद खाद्य सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।

मिलावट

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश के औद्योगिक शहर इंदौर में जहां एक ओर गुंडो और खनन माफियाओं पर कार्रवाई की जा रही है वही लोगो के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वालो के खिलाफ प्रशासन ने मोर्चा खोल दिया है। मंगलवार को इंदौर के पोलोग्राउंड क्षेत्र में मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत खाद्य एवं औषधि विभाग और जिला प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई के दौरान मायाराम फूड प्रायवेट लिमिटेड और सद्गुरु डेयरी पर छापामार कार्रवाई की गई।

दरअसल पनीर ,मावा ,क्रीम ,मिठाई बनाने दोनो फैक्ट्रियों पर छापे के दौरान बड़ी अनियमितताएं सामने आई है। कार्रवाई में फैक्ट्री परिसर के अंदर और बाहर गंदगी मिलने के अलावा अमानक स्तर का दूध बड़ी मात्रा में मिला है। दोनो ही स्थानों पर दूध को फाड़ने के लिए एसिटिक एसिड का उपयोग किया जा रहा था और कार्रवाई के दोनों फैक्ट्रियों से लगभग 70 लीटर एसिडिक एसिड कबत किया गया। बता दे कि एसिडिक एसिड आम आदमी के स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक होता है जो कैंसर जैसी बीमारी के लिए खुला आमंत्रण है।

Read More: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मुलाकात, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

प्रशासन की ओर अपर कलेक्टर अभय बेडेकर और खाद्य सुरक्षा अधिकारी पुष्प कुमार द्वेदी अमानक दूध सहित अन्य खाद्य पदार्थों के नमूने भी लिए है जिन्हें जांच के लिए भोपाल भेजा जाएगा। प्रशासनिक कार्रवाई के दौरान क्षेत्र में स्थित स्टैंडर्ड डेयरी पर भी कार्यवाही की गई जहां से 110 लीटर कंट्रोल का नीला केरोसिन जब्त किया गया जो गरीबों को बांटा जाना था लेकिन कंट्रोल संचालकों की मिलीभगत के चलते केरोसीन बड़े पैमाने पर फैक्ट्रियों पर बेचा गया था। मौके पर पहुंची टीम की रिपोर्ट के बाद दोषियों के खिलाफ रासुका की कार्रवाई के संकेत भी अधिकारियों ने दिये है।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी पुष्प कुमार द्वेदी की माने तो छापे के दौरान एकत्रित किये गए सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजे जाएंगे जिसकी रिपोर्ट आने के बाद खाद्य सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।

1 COMMENT

  1. इन समाज के दुश्मन मिलावटखोरों का जुलूस कब निकलेगा क्या प्रशासन भी इन पर इस तरह की कोई कार्रवाई करेगा और मिलावट से अर्जित की गई इनकी संपत्ति को भी तोड़ेगा क्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here