इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश में इन दिनों हुई आईपीएस अधिकारियों की बड़ी सर्जरी के बाद आखिरकार इंदौर में भी डीआईजी पद के लिए मुहर लग गई जहां शहर की जिम्मेदारी डीआईजी मनीष कपूरिया के कंधों पर दी गई है। वही शहर में पदभार ग्रहण करने के बाद देर शाम को डीआईजी ने कंट्रोल रूम में आला पुलिस अधिकारियों की बैठक बुलाई।

डीआईजी कपूरिया ने बैठक में अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को यह दिशा निर्देश दिए कि शहर में किसी भी तरह का जुआखाना, अवैध शराब बिक्री नही होने दी जाए। वही उन्होंने ये भी साफ किया कि थाना प्रभारी की लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इधर, डीआईजी मनीष कपूरिया ने थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि वो अपने सब इंस्पेक्टर और आरक्षक द्वारा डिसिप्लिन में रहकर वर्दी धारण करने को सुनिश्चित करने के साथ ही जनता की समस्याओं का समय पर निराकरण करें।

Read More: दिग्विजय सिंह का बड़ा आरोप, माफिया CM तक हिस्सा देता है, रोकोगे तो हमला होगा ही

डीआईजी इंदौर ने कहा कि ट्रैफिक और महिला सम्मान जैसे मुद्दों पर जल्द ही पुलिस कई बड़े कदम उठाकर महिलाओं को अपना सम्मान और ट्रैफिक व्यवस्था में इंदौर को नंबर वन बनाने के लिए जागरूकता अभियान की शुरुआत करें।
नई रणनीति के साथ इंदौर आये डीआईजी ने पहले ही दिन साफ कर दिया है कि शहर में कानून व्यवस्था को बिगड़ने नही देंगे साथ ही पुलिस अपना काम सुचारू रूप से करे इस बात पर भी उनका फोकस रहेगा।