गरीब राधाबाई के घर भोजन कर प्रदेश के मुखिया ने कहा आत्मा तृप्त हो गई , अचानक पहुंचे थे हम्माल परिवार के घर

सीएम शिवराज द्वारा पूछे जाने पर राधा बाई ने बेटी की स्टोन की समस्या बताई जिसके बाद सीएम ने कलेक्टर मनीष सिंह को मौक़े पर ही बेटी सहित परिवार के स्वास्थ्य परीक्षण और आवश्यक इलाज सुनिश्चित करायें जाने के निर्देश दिए। टीन की छत वाले इस कच्चे घर में पहुँचे मुख्यमंत्री चौहान ने कलेक्टर को शासन की योजना के तहत राधा बाई का पक्का मकान बनाने के भी निर्देश दिए।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करने के लिए प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान इंदौर पहुंचे। अलग अलग कार्यक्रमों के बीच बुधवार को जब उन्हें भूख का अहसास हुआ तो वे भागीरथपुरा की राधाबाई के घर पहुंचे। हम्माली और मजदूरी कर गुजर बसर करने वाली राधाबाई के परिवार ने सीएम शिवराज और बीजेपी नेताओं का आत्मीयता के साथ स्वागत किया और स्वादिष्ट भोजन परोसा। भोजन के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने राधा बाई से उनके घर की गुज़र बसर पूछी। राधा बाई ने बताया कि पति मज़दूरी करते हैं और परिवार में एक बेटा और बेटी है।

सीएम ने कलेक्टर को दिए निर्देश

सीएम शिवराज द्वारा पूछे जाने पर राधा बाई ने बेटी की स्टोन की समस्या बताई जिसके बाद सीएम ने कलेक्टर मनीष सिंह को मौक़े पर ही बेटी सहित परिवार के स्वास्थ्य परीक्षण और आवश्यक इलाज सुनिश्चित करायें जाने के निर्देश दिए। टीन की छत वाले इस कच्चे घर में पहुँचे मुख्यमंत्री चौहान ने कलेक्टर को शासन की योजना के तहत राधा बाई का पक्का मकान बनाने के भी निर्देश दिए।

आत्मा तृप्त हो गई- सीएम

राधा बाई ने आज अपनी बेटियों हेमलता और संध्या के साथ मिलकर मुख्यमंत्री के लिए खाना बनाया था। उन्होंने घर में आलू बटले की सब्ज़ी, दाल चावल और रोटी बनायी थी और मीठे में हलवा बनाया था। सांसद शंकर लालवानी और सहित अन्य जनप्रतिनिधि ही इस दौरान उपस्थित थे। अपनत्व और प्रेम से परोसे गए भोजन को ग्रहण करने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि स्वादिष्ट भोजन कर आज आत्मा तृप्त हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here