मजदूर की मौत के बाद विधायक ने CM को लिखा पत्र, अन्य राज्यों में फंसे लोगों को वापस लाने की मांग

अलीराजपुर।यतेंद्रसिंह सोलंकी

कोरोना महामारी(corona pandemic) के चलते लाक डाऊन(lock down) के दौरान गुजरात(gujrat) के नडियाद के एक कैंप में शुक्रवार को अलीराजपुर(alirajpur) के मथवाड़ के जमनिया फलिया निवासी एक मजदूर युवक की घर नहीं पहुंच पाने की चिंता में दुखद मौत हो गई। मजदूर की मौत होने की सूचना मिलने पर विधायक पटेल(mla patel) ने शोक व्यक्त कर परिवार को ढाढस बंधाया। उन्होने सीएम शिवराजसिंह चौहान(cm shivraj singh chouhan) से मांग की कि अन्य राज्यों में फंसे जिले के मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था तत्काली की जाए ताकि किसी अन्य व्यक्ति की इस प्रकार जान नहीं जाए।

इस संबंध में विधायक पटेल ने बताया कि शुक्रवार सुबह हमारे कार्यकर्ता शैलेश कनेश ने सूचना दी कि हमारे विधानसभा क्षेत्र से मजदूरी करने गए युवक ललिया पिता नारसिंह निवासी जमनिया फलिया मथवाड़ की गुजरात में मृत्यु हो गई। युवक मजदूरी करने गुजरात गया था और लाक डॉउन में फस गया। इस दौरान उसको गुजरात में कैम्प में रखा गया था और उसको खाने पीने की भी दिक्कत हो रही थी। अपने घर न आ पाने की टेंशन में उसकी दुखद मृत्यु हो गई। मजदूर युवक की मुत्यु होने पर विधायक पटेल ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से आग्रह किया की जिस तरह से आप राजस्थान से स्टूडेंट को लाए है उसी तरह से मप्र से अलग अलग क्षेत्र के बाहर राज्यो में फंसे है हुए मजदूरों को लाए। आदिवासी अंचल आलीराजपुर और झाबुआ जिलो से हजारों मजदूर अन्य राज्यों में गए है उनको तत्काल लाने का प्रबंध किया जाए।

विधायक पटेल ने कहा कि मेरे क्षेत्र के कई लोग गुजरात सहित अन्य स्थानों पर फंसे हुए है। जिन्हें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ राहा है। अपने घर नहीं पहुंच पाने की चिंता और अन्य परेशानियों के कारण उनके परिजन भी बेहद चिंतित है। जिले से गुजरात गए मजदूरों के फोन आ रहे है। जिनकी सूची में प्रशासन को भी उपलब्ध करवा चुका हूं। लेकिन शासन प्रशासन मेरे जिले के मजदूरों को लाने की व्यवस्था करने में नाकाम साबित हो रहा है। कई मजदूर पैदल पैदल सैकडो किमी का सफर तय कर जैसे तैसे अपने घरों तक पहुंचे है तो कई अभी भी विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए है और कई प्रकार की परेशानियों का सामना हर दिन कर रहे है। उन्हें वहां पर पर्याप्त सुविधाएं नहीं मिल पा रही है।
विधायक पटेल ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि मजदूर ललिया पिता नारसिंह के परिजनों को तत्काल 5 लाख रुपए की सहायता राशि परिवार के भरण पोषन के लिए उपलब्ध कराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here