Agra Bus Hijack: सभी यात्री सुरक्षित, पुलिस को झांसी में मिली लोकेशन, जांच के आदेश

आगरा, डेस्क रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के ताज नगरी आगरा (Agra) से हाईजैक हुई 34 सवारियों से भरी बस का पता चल गया है। बस में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं, पुलिस ने बस के झांसी के पास से बरामद होने की जानकारी दी है।पुलिस के मुताबिक आगरा एसएसपी बबलू कुमार ने घटना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उनकी टीम ने बस में मौजूद सवारियों से बात करने के बाद आगे की कार्रवाई करने के आदेश दे दिए हैं।

वही मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने मामले को संज्ञान मे लेते हुए गृह विभाग को दिया आदेश दिया है कि दोषी फ़ाइनेंस कम्पनी के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाए। सीएम ने कहा है कि दोषियों को गिरफ़्तार कर तुरंत कार्रवाई हो, सीएम योगी ने मामले की रिपोर्ट भी तलब की है।इधर, ग्वालियर एसपी अमित सांघी  की माने तो एक दिन पहले बस मालिक की मौत के बाद साझेदारी में झगड़े की बात अभी सामने आई थी, लेकिन यात्रियों से कोई बात नहीं हो पा रही है। फिलहाल ग्वालियर में चैकिंग लगा दी गई है और बायपास पर अलर्ट है।

ये है पूरा मामला
मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले के डबरा निवासी रमेश स्लीपर बस में 34 सवारी लेकर मंगलवार शाम को गुरुग्राम से मप्र के पन्ना में अमानगंज को निकले थे। रात 10.30 बजे वे दक्षिणी बाइपास के रायभा टोल प्लाजा के पास पहुंचे। वहां उन्हें दो जाइलो में सवार आठ- नौ युवक मिले। उन्होंने प्लाजा पर ही खुद को फाइनेंसकर्मी बताकर बस को रोक लिया। चालक से बस से नीचे उतरने को कह रहे थे, लेकिन चालक वहां से बस को लेकर आगे चल दिया। इसके बाद रात सवा दो बजे UP 75 M 3516 नंबर की बस ने जैसे ही इटावा टोल क्रॉस किया, पीछे से आए कुछ लोगों ने उसे रोक लिया। इसके बाद उन्होंने यात्रियों से खुद को फाइनेंस कर्मी बताया, उन्होंने बस और परिचालक को खाना खिलाया और दोनों को 300-300 रुपये भी दिए और उन्हें छोड़ दिया।बदमाशों ने बस को हाईजैक कर ड्राइवर व कंडक्टर को उतार दिया है, इसके अलावा 34 यात्रियों भरी बस को किसी अज्ञात जगह ले गए हैं।बस की जानकारी मिलते ही मध्य प्रदेश पुलिस से संपर्क किया गया है।इसके बाद पुलिस को झांसी में इसकी लोकेशन मिली। आगरा में न्यू दक्षिणी बाईपास से लापता हुई बस का पता चल गया है, बस के सभी यात्री झांसी पहुंचे हैं। आगरा पुलिस ने यात्रियों से बात की है और बताया है कि सभी यात्री सुरक्षित हैं। इसी बीच बस के ड्राइवर और कंडक्टर से भी बातचीत की जा रही है और वे घटना पर जानकारी दे रहे है। पुलिस बस के बारे में आगे के टोल प्लाजा से संपर्क कर जानकारी करने का प्रयास कर रही है। चालक और परिचालक से पूछताछ की जा रही है। एसएसपी बबलू कुमार भी थाना मलपुरा पहुंच गए।उधर घटना के बाद आगरा के इंस्पेक्टर क्राइम ब्रांच कमलेश सिंह ने बस में यात्रा कर रहे कुछ सवारियों से भी बात की, जिसमें यात्रियों के मउरानीपुर पहुँचने और झांसी से दूसरे बस की सहायता से आगे जाने की पुष्टि हुई है. कुछ यात्रियों के बीच में ही उतरने की बात भी सामने आई है।