जबलपुर सहित समीपवर्ती जिले में भारी बारिश से अलर्ट जारी, खुल सकते हैं बरगी बांध के गेट

जबलपुर, संदीप कुमार

रानी अवंती बाई लोधी सागर परियोजना बरगी बांध में पानी की आवक लगातार बढ़ती जा रही है। बरगी बांध के तटीय इलाकों में बारिश की वजह से अभी 5 हजार 656 घन मीटर प्रति सेकण्ड (क्यूमेक) आवक है, जिससे एक घंटे में 18 एमसीएम पानी आना आंकलित किया गया है। आज शाम 7 बजे की स्थिति में बरगी बांध का जलस्तर 420.45 मीटर दर्ज किया गया इस स्थिति को देखते हुए कभी भी बरगी बांध के जल द्वार खोलने की स्थिति निर्मित होने की संभावना है।

कार्यपालन यंत्री एके सूरे ने नर्मदा नदी के तटीय क्षेत्र एवं जल भराव क्षेत्र के रहवासियों से आग्रह किया है कि वे नर्मदा के तटीय क्षेत्रों से सुरक्षित और पर्याप्त दूरी बनाये रखें। बरगी बांध जलाशय का पूर्ण जलस्तर 422.76 मीटर है। सोमवार 17 अगस्त की शाम 7 बजे तक बांध में 420.45 मीटर जलस्तर था। इस प्रकार करीब 81 फीसदी बांध पानी से भर चुका है। बांध में पूर्ण जल स्तर प्राप्त करने के लिए 828 एमसीएम पानी की आवश्यकता है। बरगी बांध का जलग्रहण क्षेत्र 14 हजार 556 घन मीटर है। इसके जल ग्रहण क्षेत्र में डिण्डौरी, मोहगांव, मानोट, मुक्की, मवई, बम्हनी बंजर, मंडला तथा बरगी नगर सहित 8 रेनगेज स्टेशन हैं। इन सभी रेनगेज स्टेशन में वर्षाकाल के दौरान सतत वर्षा दर्ज की जाती है तथा वर्षा के आंकड़ों का विश्लेषण करते हुए बरगी बांध के जल भराव क्षेत्र में आने वाले पानी, भराव का वेग तथा बरगी बांध के जल स्तर की गणना की जाती है।