कांग्रेस विधायक ने दिया थाने पर धरना, टीआई को लीव पर भेजा, ये है मामला

विधायक ने मामले की निष्पक्ष जाँच कराने और टीआई विनय शर्मा को थाने से हटाने के लिए जिला अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा के साथ एक आवेदन एडिशनल एसपी सतेंद्र सिंह तोमर को दिया

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। माधौगंज थाने के बाहर कांग्रेस (Congress) और भाजपा (BJP) के बीच हुए हंगामे के बीच टीआई विनय शर्मा (TI Vinay Sharma)को हटाने की मांग को लेकर कांग्रेस विधायक सतीश सिंह सिकरवार (Congress MLA Satish Singh Sikarwar) थाने के बाहर धरने पर बैठ गए। उनका आरोप था कि पुलिस व्यापारियों से वसूली करती है जिसे कांग्रेस सहन नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि हमने मामले की जांच के लिए कहा है। अधिकारियों ने भी भरोसा दिया है कि जब तक जांच होगी टीआई विनय शर्मा छुट्टी पर रहेंगे। जिससे जांच प्रभावित ना हो सके।

माधौगंज थाने के टीआई विनय शर्मा (TI Vinay Sharma)पर भाजपा (BJP) की शह पर कांग्रेस समर्थित व्यापारियों को परेशान करने और अवैध वसूली करने के आरोप लगाते हुए कांग्रेस (Congress)ने आज जिलाअध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा (Dr Devendra Sharma) के नेतृत्व में माधौगंज थाने का घेराव किया। कांग्रेस का आरोप था कि भाजपा नेता एवं व्यापारी सोनू गोयल की झूठी शिकायत पर टीआई विनय शर्मा ने कांग्रेस नेता एवं व्यापारी लखनलाल गुप्ता और उनके बेटे दीपक गुप्ता को थाने में बैठा लिया और अभद्रता की जबकि उनका कोई लेन देन सोनू गोयल से है नही वे तो उसे जानते तक नहीं। उधर सोनू गोयल का कहना था कि दीपक से उसे एक मकान के सौदे की दलाली 70,000 रुपये लेना है जिसे वो नहीं दे रहा जिसकी शिकायत उसने माधौगंज थाने में दी है।

कांग्रेस के धरने के दौरान भाजपा समर्थक भी सोनू गोयल के साथ वहाँ पहुँच गए । घेराव की सूचना मिलते ही ग्वालियर पूर्व विधानसभा के विधायक सतीश सिंह सिकरवार भी थाने पहुँच गए। चूंकि मौके पर भाजपा कार्यकर्ता भी पहुँच गए थे इसलिए हंगामा बढ़ गया। दोनों तरफ से नारेबाजी होने लगी। कांग्रेस विधायक ने बहुत समझाने की कोशिश की लेकिन मामला सुलझता नही देख वे खुद धरने पर बैठ गए। विधायक के धरने पर बैठने की सूचना पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी माधौगंज थाने पहुँच गए ।

विधायक सतीश सिंह सिकरवार ने कहा कि ये मामला भाजपा या कांग्रेस का नहीं है ये मामला है पुलिस द्वारा व्यापारियों से की जा रही अवैध वसूली का। इसलिए जब तक टी आई विनय शर्मा पर एक्शन नहीं होगा हम धरने से नहीं हटेंगे। विधायक ने मामले की निष्पक्ष जाँच कराने और टीआई विनय शर्मा को थाने से हटाने के लिए जिला अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा के साथ एक आवेदन एडिशनल एसपी सतेंद्र सिंह तोमर को दिया। आवेदन मिलते ही एडिशनल एसपी ने पूरे मामले की जांच सीएसपी लश्कर को सौंप दी और जांच पूरी होने तक टीआई विनय शर्मा को छुट्टी पर भेज दिया। एडिशनल एसपी ने कहा कि टीआई भी खुद जांच के लिए तैयार हैं उन्होंने जांच में सहयोग की बात कही है।