एन्टी माफिया अभियान : एक्शन में जिला प्रशासन चिटफंड,अवैध कारोबारी निशाने पर

हर दल में क्षेत्रीय एसडीएम, सीएसपी, फूड इंस्पेक्टर, ड्रग इंस्पेक्टर, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, माइनिंग इंस्पेक्टर व कॉपरेटिव इंस्पेक्टर शामिल किए गए हैं

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। पिछले दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj singh chauhan) के निर्देश के बाद सख्त हुए ग्वालियर जिला प्रशासन (Gwalior District Administration) ने माफिया(Mafia), चिटफंडी (Chitfundi) और अवैध कारोबारियों (Traffickers) पर शिकंजा कसना तेज कर दिया है । कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह(Collector Kaushalendra Vikram Singh) ने कार्रवाई के लिए प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के संयुक्त दल गठित किये हैं।

भू-माफिया, ड्रग्स माफिया, रेत माफिया, मिलावटखोर, कॉपरेटिव व चिटफंड फ्रॉड सहित अन्य अवैधानिक गतिविधियों में लिप्त लोगों व संस्थाओं के विरुद्ध अभियान के तहत कार्रवाई करने के लिये कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अनुविभागवार दल गठित कर दिए हैं। उन्होंने माफियाओं के खिलाफ अनुविभागवार की जाने वाली कार्रवाई की प्रतिदिन निर्धारित प्रपत्र में रिपोर्ट अपर जिला दण्डाधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए हैं। कलेक्टर ने राजस्व अनुविभाग लश्कर, मुरार, झाँसी रोड़, ग्वालियर ग्रामीण, ग्वालियर सिटी, डबरा, भितरवार व घाटीगाँव के लिये अलग-अलग दल गठित करने का आदेश जारी किया है। हर दल में क्षेत्रीय एसडीएम, सीएसपी, फूड इंस्पेक्टर, ड्रग इंस्पेक्टर, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, माइनिंग इंस्पेक्टर व कॉपरेटिव इंस्पेक्टर शामिल किए गए हैं। शहरी क्षेत्र के अनुविभाग में उपायुक्त नगर निगम एवं ग्रामीण क्षेत्र के अनुविभाग में संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को भी शामिल किया गया है। जिला दण्डाधिकारी श्री सिंह ने इन दलों के प्रभारियों को निर्देश दिए हैं कि माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ-साथ अवैध कार्य करने के आदी लोगों के खिलाफ पुलिस के माध्यम से एनएसए एवं जिला बदर की कार्रवाई भी प्रस्तावित करें।