Arrest: मानव तस्करी के मुख्य आरोपी जीतू सोनी को इंदौर क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

भोपाल।

प्रदेश में हनी ट्रैप मामले के बाद पुलिस की नजरों में आया मुख्य आरोपी जीतू सोनी को इंदौर क्राइम ब्रांच ने गुजरात से गिरफ्तार कर लिया है। इस बात की पुष्टि डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने की है। दरअसल 8 महीने से फरार आरोपी जीतू सोनी को पकड़ने के लिए इंदौर क्राइम ब्रांच की 12 से ज्यादा टीमें गुजरात में डेरा जमाए हुई थी। 4 दिन पहले पुलिस ने जीतू को पकड़ने की कोशिश की लेकिन सूचना मिलते ही तो राजकोट स्थित एक फार्म हाउस से फरार हो गया था। जीतू सोनी को पकड़ने के लिए उस पर सवा लाख के इनाम रखा गया था

माना जा रहा है कि जल्दी इंदौर पुलिस इस मामले का खुलासा करेगी वही हनी ट्रैप कांड के खुलासे के बाद से जीनू सोनी पर अब तक 56 से ज्यादा एफआईआर दर्ज किए गए हैं। जिसमें 40 के समय उसके परिवार के सदस्य भी आरोपी हैं। इधर गुजरात के राजकोट में पुलिस को 4 दिन पहले सूचना मिली कि जीतू सोनी वहां रह रहा है। पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया किंतु सूचना मिलते ही जीतू वहां से फरार हो गया था। शुक्रवार को एक बार फिर पुलिस ने उसकी लोकेशन निकाली और इंदौर क्राइम ब्रांच की छे अलग टीमों ने अलग-अलग जगह पर छापे मारे। जिसके बाद जीतू को गुजरात और मध्य प्रदेश के बॉर्डर से गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं से पहले पुलिस द्वारा जीतू सोनी के भाई महेंद्र सोनी को रिमांड बढ़ाने के लिए कोर्ट में पेश किया गया लेकिन गले में कैंसर की वजह से उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं महेंद्र सोनी ने सेशन कोर्ट में जमानत याचिका भी दायर की है।

बता दें कि पूरा मामला 1 दिसंबर 2019 को सामने आया था जब पुलिस को सूचना मिली कि लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी द्वारा शहर में बिना अनुमति के डांस बार चलाया जा रहा है। जहां युवतियों को बंधक बनाकर रखा गया है और उनसे अवैध गतिविधियां संचालित की जा रही है। पुलिस ने इसके बाद होटल में छापेमारी की और करीबन 65 युवतियों को होटल से बाहर निकाला। जिसके बाद जीतू सोनी पर और कई तरह के अवैध व्यापारी गतिविधियों को संचालित करने के आरोप लगे। अब रविवार को इंदौर क्राइम ब्रांच जीतू को लेकर इंदौर पहुंचे जाओ से पूछताछ की जा रही है। माना जा रहा है कि जल्दी इंदौर पुलिस मामले का खुलासा करेगी।