Atal Bihari Vajpayee: भावुक हुए शिवराज, बोले-‘कविताओं के रूप में मुझमें जीवित हैं अटल जी’

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

देश के पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी (Former Prime Minister And Bharat Ratn Atal Bihari Bajpai) की आज दूसरी पुण्यतिथि है। उनकी पुण्यतिथि पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने उनको याद किया और श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया है, “मैं गाँव से भोपाल पढ़ने आया था और छात्र रहते पहली बार चार बत्ती चौराहे पर जनसंघ के अध्यक्ष के रूप में स्व श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को सुना। वो दिन था और आज का दिन है, वह अपनी वाणी, विचार, ज्ञान और कविताओं के रूप में मुझमें जीवित हैं। उनकी पुण्यतिथि पर उन्हें शत-शत नमन करता हूँ।”

वहीं प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Modi) ने भी अटल जी को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है, ‘प्यारे अटल जी को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि। भारत हमेशा उनकी उत्कृष्ट सेवा और हमारे राष्ट्र की प्रगति के प्रयासों को याद रखेगा।’

प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट के साथ एक वीडिया संदेश भी जारी किया जिसमें उन्होंने कहा, ‘यह देश अटल जी के योगदान को कभी नहीं भुला सकता है। उनके नेतृत्व में हमने परमाणु शक्ति में भी देश का सर ऊंचा किया। पार्टी नेता हो, सांसद हो, मंत्री हो या फिर प्रधानमंत्री, अटल जी ने हर भूमिका में आदर्श स्थापित किया। अटल जी के जीवन की विशेषता के रूप में बहुत सारी बातें कही जा सकती हैं। उनके भाषण की सदैव चर्चा होती है, लेकिन जितनी ताकत उनके भाषण में थी, उससे कई गुणा अधिक ताकत उनके मौन में थी। वो जनसभा में भी जब दो-चार वाक्य बोलने के बाद मौन हो जाते थे, तो लाखों की भीड़ के आखिरी व्यक्ति को भी उस मौन से संदेश मिल जाता था।’

बतादें अटल जी का जन्म 25 दिसम्बर 1924 को मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हुआ था। 93 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया था। उन्होंने 16 अगस्त 2018 को दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में अपनी आखरी सांस ली थी।