MP में उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा है कि खंडवा के इस रवींद्र भवन का नाम किशोर दा के नाम पर रखा जाएगा।यह किशोर दा (Kishor Kumar) की भी भूमि है। मैं सचमुच किशोर कुमार जी के गीत से प्रेरणा लेता हूं। ये टंट्या मामा की भी भूमि है। और हमने यहां स्मारक बनाया। #AzadiKaAmritMahotsav का एक भव्य कार्यक्रम टंट्या मामा की जन्मभूमि पर मनाया जाएगा। उनके नाम पर स्मारक को भव्य स्वरुप प्रदान किया जाएगा।

यह भी पढ़े… MP Weather: मप्र का अचानक बदला मौसम, आज इन जिलों में बारिश के आसार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आशीर्वाद से आज 1 लाख 29 हजार शहरी गरीब भाइयों-बहनों को मकान की सौगात मिल रही है। मैं प्रदेश के ऐसे सभी भाइयों-बहनों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि मध्यप्रदेश (Madhya pradesh) में कोई भी गरीब बिना छत के नहीं रहेगा।जिनके पास जमीन का टुकड़ा है, पट्टा नहीं है। उनको हम पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाएंगे। गरीब को जमीन और छत दोनों का मालिक बनाया जाएगा। यही सामाजिक न्याय है।

इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री आवास योजना (Prime Minister’s Housing Scheme) के 79 हजार 39 हितग्राहियों को 627 करोड़ रूपये की सहायता राशि का वितरण और 50 हजार 253 हितग्राहियों के आवास निर्माण के लिये भूमि-पूजन किया गया। इस कार्यक्रम के माध्यम से 363 निकायों के एक लाख 29 हजार 292 हितग्राही लाभन्वित होंगे।उन्होने कहा कि यहां ओंकारेश्वर है, यहां ममलेश्वर है, यहां नर्मदा मैया है, यहां दादा धूनि वाले हैं, यहां संत सिंगाजी महाराज हैं, यहां बुखारदास जी, संत सेवालाल जी जैसे अनेक संत हैं। इस भूमि को मैं बारंबार प्रणाम करता हूं ।

यह भी पढ़े.. MP School : स्कूल खुलने से पहले 1 से 8वीं के छात्रों के लिए खुशखबरी, ऐसे मिलेगा लाभ

बता दे कि प्रधानमंत्री द्वारा देश के हर नागरिक को पक्का आवास उपलब्ध कराने के उद्देश्य से वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) शुरू की गई थी। प्रदेश में योजना के विभिन्न घटकों के अन्तर्गत 8 लाख 37 हजार आवास स्वीकृत किये गये हैं। इनमें से 3 लाख 33 हजार हितग्राहियो के आवास पूरे हो चुके हैं। शेष आवासों का निर्माण भी तेजी से किया जा रहा है।