सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, इंदौर का खंडवा रोड कहलाएगा अटल मार्ग, मेट्रो सहित कई विकास कार्यों का लोकार्पण

टंट्या मामा चौराहा से तेजाजी नगर तक बनाई जा रही सड़क अब स्व. अटल जी के नाम से होगी

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर में 1416 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले मेट्रो (Indore Metro) को गति देने का कार्य शुरू हो चुका है। दरअसल आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj singh chouhan) ने इंदौर में मेट्रो कार्य तेज करने के लिए 16 मेट्रो स्टेशन का विधि विधान से भूमि पूजन किया इस दौरान सीएम शिवराज ने इंदौर (Indore) के लिए बड़ी घोषणा की है। सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा है कि “इंदौर मेरे सपनों का शहर है, इसकी शान मैं कभी कम नहीं होने दूंगा। मेरा सभी इंदौर-वासियों को वचन है कि इस शहर के विकास के रास्ते में कोई बाधा नहीं आने दूंगा। इंदौर ने केवल प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में स्वच्छता के क्षेत्र में अपना परचम लहराया है। लगातार पाँच बार स्वच्छता सर्वेक्षण में अव्वल आया इंदौर शहर अब स्वच्छता का छक्का भी जरूर लगाएगा।

उन्होंने कहा कि वे प्रसिद्ध लेखक, कवि, कुशल नेता, मनमोहक वक्ता, दुनिया में भारत का मान- सम्मान और स्वाभिमान बढ़ाने वाले देश के पूर्व प्रधानमंत्री परम श्रद्धेय स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी को उनके जन्म-दिन पर नमन करते हैं और टंट्या मामा चौराहे से तेजाजी नगर तक बनाई जा रही इस सड़क को उनके नाम पर समर्पित करते हैं।

टंट्या मामा चौराहा से तेजाजी नगर तक बनाई जा रही सड़क अब स्व. अटल जी के नाम से होगी

सीएम शिवराज ने टंट्या मामा चौराहा से तेजाजी नगर (अण्डरपास) तक सड़क विस्तारीकरण में 6 लेन सीमेंट-कांक्रीट सड़क निर्माण का भूमि-पूजन करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi) और केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari)  के मार्गदर्शन में देश में सड़कों का मजबूत जाल बिछाया जा रहा है, जिसका लाभ मध्यप्रदेश और इंदौर को भी मिल रहा है।

खंडवा रोड को चौड़ा करने का कार्य काफी समय से अटका हुआ था, हमारी सरकार के आते ही इस रोड का कार्य प्रारंभ किया गया। इंदौर नगर निगम को सड़कों के विस्तार के लिए 53 करोड़ 73 लाख रूपये की स्वीकृति दी है। सड़क के विस्तार के बाद इसकी लंबाई 6.50 लाख किलोमीटर तथा चौड़ाई 31.70 मीटर हो जायेगी।

Read More : MP News : छात्रों के लिए सीएम शिवराज की बड़ी घोषणा, ऐसे मिलेगा लाभ

सीएम ने कहा कि यह इंदौरवासियों के समर्पण और अनुशासन का ही नतीजा है कि इंदौर न केवल स्वच्छता में बल्कि जन्म के समय लिंगानुपात में भी आगे रहा। बेटियों के सम्मान का उदाहरण बनकर इंदौर ने फिर से हम सभी को गौरवान्वित किया है। मैं इंदौरवासियों के विकास के लिये उनके समर्पण एवं सेवाभाव को नमन करता हूँ।

सीएम शिवराज आज इंदौर के खंडवा रोड पर नगर निगम के विकास कार्यों के भूमि-पूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने खंडवा रोड निर्माण कार्य, प्रधानमंत्री आवास योजना में आवासों के निर्माण तथा नगर निगम द्वारा किये जा रहे अन्य विभिन्न विकास कार्यों का भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किया।

स्कीम नम्बर-140 अब स्व. कुशाभाऊ ठाकरे के नाम से जानी जाएगी

सीएम शिवराज ने घोषणा की कि इंदौर विकास प्राधिकरण की स्कीम नम्बर-140 को अब स्वर्गीय कुशाभाऊ ठाकरे के नाम से जाना जाएगा। उन्होंने कहा कि राऊ विधानसभा क्षेत्र में पालदा से आरटीओ रोड को चौड़ा करने का कार्य भी शीघ्र ही प्रारंभ किया जाएगा। सीएम शिवराज ने इंदौर शहर को विकास की सौगातें देते हुए एक और घोषणा करते हुए कहा कि राऊ विधानसभा क्षेत्र में स्थापित महाविद्यालय को अगले सत्र से स्नातक से स्नातकोत्तर कर दिया जाएगा।

यहाँ अब साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स की पोस्ट ग्रेजुएशन क्लासेस शुरू की जाएंगी। खंडवा रोड पर मेट्रो स्टेशन बनाने के लिए सर्वे कराया जाएगा और यदि फिजिबिलिटी पाई जाती है तो प्रस्ताव को तुरंत आगे बढ़ाया जाएगा।

कोई भी गरीब बिना आवास के नहीं रहेगा

मुख्यमंत्री चौहान द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में ग्राम लिम्बोदी में 18 करोड़ की लागत से 192 आवासीय प्रकोष्ठ के निर्माण का भूमि पूजन एवं अरावली परिसर (भूरी टेकरी), गुलमर्ग परिसर (कनाड़िया), पलाश परिसर 01 (राऊ सिलिकॉन सिटी) एवं पलाश परिसर 02 (निहालपुरमुण्डी ओमेक्स हिल्स) पर 220 करोड़ की लागत से आवासीय इकाइयों के निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भू-माफियाओं के कब्जे से पूरे प्रदेश में 18 हजार करोड़ की लागत की जमीन मुक्त कराई गई है। मुक्त जमीन पर गरीबों के लिये मकान बनाये जायेंगे। अब कोई भी गरीब बिना आवास के न रहे, इसके लिये राज्य शासन निरंतर अभियान चलाकर शासकीय जमीनों को अतिक्रमण से मुक्त करवायेगा।

वायु गुणवत्ता सुधार करने वाली इकाइयों को किया सम्मानित

सीएम शिवराज ने कहा कि इंदौर शहर की वायु गुणवत्ता में सुधार के लिये युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के फलस्वरूप विभिन्न संस्थाओं द्वारा वायु गुणवत्ता सुधार के लिए बहुमूल्य प्रयास किये गये हैं। इसके अंतर्गत जिले के अम्बर उद्योग द्वारा फैक्ट्री परिसर में स्थापित बॉयलर को सीएनजी में परिवर्तित करने एवं शहर के प्रमुख कमर्शियल फूड हब 56 दुकान, स्कीम 140 एवं मेघदूत चौपाटी द्वारा पूरी तरह पारम्परिक ईधन से एल.पी.जी. में परिवर्तित होने पर मुख्यमंत्री चौहान द्वारा उन्हें सम्मानित किया गया।

CM ने कहा कि इंदौर शहर ने लगातार पाँच बार स्वच्छता के क्षेत्र में अपना परचम देशभर में लहराया है। अब 6वीं बार नंबर वन बनने के लिये, नवाचारों के साथ जिला प्रशासन एवं नगर निगम इन्दौर द्वारा संयुक्त रूप से विभिन्न कार्य प्रारम्भ किये गये हैं। मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय, औद्योगिक संस्थाएँ, यातायात विभाग, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, ट्रान्सपोर्ट एसोसिएशन आदि के साथ समन्वय स्थापित कर शहर की वायु गुणवत्ता सुधारने हेतु विभिन्न कार्य किये जा रहे हैं।