बड़ी खबर: पूर्व क्रिकेटर और यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान का निधन

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट
यूपी से बड़ी खबर मिल रही है। योगी कैबिनेट के एक और मंत्री का निधन हो गया है। भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज व उत्तर प्रदेश के सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्री चेतन चौहान का निधन हो गया है।वे 73 साल के थे। उनके निधन के बाद यूपी भाजपा में शोक लहर दौड़ गई है।बता दे कि हाल ही में एक और कैबिनेट मंत्री का निधन हो गया था।यूपी बीजेपी के लिए ये दूसरा बड़ा झटका है।

मिली जानकारी के अनुसार,11 जुलाई में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्‍हें एसजीपीजीआई में एडमिट कराया गया था। इसके बाद उन्हें किडनी और ब्‍लड प्रेशर की समस्‍याएं शुरू हो गईं, जिसके बाद 15 जुलाई को उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। बीच में दो बार चौहान की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद फिर पॉजिटिव आई थी।हालांकि आज दिन में ही उनके रिश्तेदार मुकुल ने बताया था कि  चेतन की तबीयत में सुधार है। हालांकि उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था।चौहान किडनी की बीमारी से पीड़ित थे।

अमरोहा से चेतन चौहान भाजपा के सांसद भी रहे हैं।चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी की राजनीति में लंबे समय से सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी से लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं। 1991 और 1998 के चुनाव में वह भाजपा के टिकट अमरोहा से सांसद बने थे। चेतन चौहान अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक हैं।चेतन चौहान ने भारतीय जनता पार्टी के टिकट से 1991 में अमरोहा में चुनाव लड़ा और वे वहां से सांसद चुने गए। इसके बाद एक बार फिर 1996 में भाजपा ने उन्‍हें इसी मैदान में चुनावी जंग के लिए उतारा, लेकिन इस बार वे हार गये. 1998 में चेतन चौहान एक बार फिर सांसद चुने गए। वहीं, साल 1999 और 2004 के लोकसभा चुनाव में भी उन्‍होंने अपनी किस्‍मत आजमाई, लेकिन हार का सामना करना पड़ा, फिलहाल वे अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक हैं।