सांसद सिंधिया का बड़ा बयान, ग्वालियर बनेगा “हेल्थ हब”, प्राइवेट अस्पताल भी आयेंगे

उन्होंने कहा कि ये दिल्ली के लिए काउंटर मैग्नेट भी बन सकता है क्योंकि यहाँ सर्विस के लिए केवल ग्वालियर होगा। सिंधिया ने कहा कि हम प्राइवेट अस्पतालों को भी ग्वालियर में लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। राज्य सभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jotiraditya Scindia)का एक बड़ा बयान सामने आया है। उनका कहना है कि ग्वालियर को “हेल्थ हब” (Health Hub) के रूप में विकसित किया जायेगा और यहाँ देश के बड़े प्राइवेट अस्पतालों को भी लाया जायेगा। वे ग्वालियर में बन रहे 1000 बिस्तर के बहुप्रतीक्षित अस्पताल के निरीक्षण के दौरान पत्रकारों से बात कर रहे थे। सिंधिया के साथ स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी (Prabhuram Chaudhari)और ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar)भी थे । सिंधिया ने कार्य की प्रगति पर संतुष्ट जताई और सुझाव दिया कि जैसे ही A ब्लॉक का काम पूरा हो जाए इसे शुरू कर देना चाहिए जिससे जनता को इसका लाभ मिल सके।

ग्वालियर (Gwalior) के कंपू क्षेत्र में ग्वालियर पॉटरीज की जमीन पर जयारोग्य अस्पताल परिसर के पास 1000 बिस्तर के आधुनिक अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है। इस महत्वाकांक्षी अस्पताल का निर्माण लंबे समय से किया जा रहा है। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आज रविवार को ग्वालियर दौरे के दौरान इसका निरीक्षण किया उन्होंने कहा कि कार्य प्रगति पर सतत् निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने सुझाव दिया कि A ब्लॉक पूरा बन जाता है और B एवं C में धूल का काम खत्म हो जाता है और इंटीरियर शुरू हो जाता है तो इसे शुरू कर जनता के लिए खोल देना चाहिए जिससे जनता स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ले सके। उन्होंने कहा कि अधोसंरचना, मशीन और स्टाफ नियुक्ति तीनों काम एक साथ होने चाहिए। तीनों नदियाँ समुद्र में एक साथ मिलना चाहिए। ऐसा नहीं होना चाहिए कि अधोसंरचना पूरी हो जाए तो मशीनें, उपकरण ना हो, अधोसंरचना, मशीन, उपकरण हो और स्टाफ ना हो। इसलिए मैंने सुझाव दिया है कि तीनों काम पेरेलल होने चाहिए।

बड़े महाराज यानि माधव राव सिंधिया (Madhav Rao Scindia) के ग्वालियर को स्वास्थ्य के क्षेत्र में अव्वल बनाने के सपने के सवाल पर सिंधिया ने कहा ये हमारी प्रादेशिक स्तर पर ये जिम्मेदारी है कि ग्वालियर को हेल्थ हब के रूप में विकसित किया जाए। उन्होंने कहा कि निजी क्षेत्र भी आगे आकर स्वास्थ्य के क्षेत्र में भागीदारी निभाएं। क्योंकि ये नहीं भूलना चाहिए कि हम जहाँ स्थित हैं वहाँ राजस्थान, छ्त्तीसगढ़ और उत्तरप्रदेश के मरीज स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लेने आते हैं। उन्होंने कहा कि ये दिल्ली के लिए काउंटर मैग्नेट भी बन सकता है क्योंकि यहाँ सर्विस के लिए केवल ग्वालियर होगा। सिंधिया ने कहा कि हम प्राइवेट अस्पतालों को भी ग्वालियर में लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। आने वाले समय में हमें आशा है कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में निजी क्षेत्र से भी निवेश आयेगा। उन्होंने 2021 के लिए शुभ कामनाएं देते हुए कहा कि पूरा विश्व कोरोना से मुक्त हो हर जगह खुशहाली हो यहीं कामना 2021 के लिए करते हैं।