हिरदेनगर में दोहरा हत्याकांड, BJP- Congress ने सिस्टम पर उठाए सवाल

मण्डला।सुधीर उपाध्याय

बीते सप्ताह जिला मुख्यालय में कांग्रेस कार्यकर्ता पांचोरिया हत्याकांड और जिला पंचायत कार्यालय में दिनदहाड़े दलित युवती की धारदार हत्या को लोग भूल भी नहीं सके हैं कि बीती रात हिरदेनगर पुलिस चौकी के लुटिया गांव में दोहरी हत्या हो जाने से कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या करने वाले आरोपी यद्यपि रायपुर पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं लेकिन इस शान्ति प्रिय जिले में निरंतर घटित 4 हत्या की घटनाओं ने आम आदमी को दहसत में डाल दिया है।

सूत्र बताते है कि लुटिया गांव में दोहरी हत्या का आरोपी अपनी पत्नी पर प्राणघातक हमले के आरोप में जेल से चंद दिन पहिले ही रिहा हुआ था, बीते दिन इसी आरोपी पति ने अपनी पत्नी पर कुल्हाड़ी से फिर हमला किया पत्नी तो भाग गई लेकिन बचाने पहुची गांव की एक महिला और एक युवक आरोपी के शिकार बन गए,जिनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

सम्भवतः यह पहिला अवसर होगा जब पछ- विपक्ष का स्वर एक ही है कि जिले की कानून व्यवस्था कहीं लड़खड़ा गई है? पांचोरिया हत्याकांड के बाद सरकारी कार्यालय में दिनदहाड़े क्रूर हत्याकांड औऱ नाबालिग बच्चियों के साथ बलात्कार जैसी गंभीर अपराध यद्यपि राजनेताओं के दौरे में कहीं चिप से गये हैं लेकिन सच्चाई से मुंह मोड़ा नहीं जा सकता। मण्डला अपराध और आपराधिक कृत्यों से अछूता नहीं है लेकिन बीते हफ्ते घटी घटनाओं ने सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े किए है? अपनी प्रखर औऱ आक्रामक राजनीति के लिए जाने जाने वाले दिग्गी राजा ने अपराधों के लिए रेत,शराब के अवैध व्यापार और भाजपा, बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहरा दिया वहीं भाजपा अध्यक्ष भीष्म द्विवेदी ने घटना की निंदा क