BJP विधायक का ऐलान- नहीं करूंगा अन्न-जल ग्रहण, शिवराज बोले- “ऐसा ना करें”

रीवा, डेस्क रिपोर्ट

अप्रत्याशित तरीके से बदलने वाली राजनीति में मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) का नाम सबसे ऊपर आना चाहिए। यह कौन सी खबर कब मुद्दा बन जाए यह कोई नहीं जानता। राजनीतिक गलियारों में हर दिन कुछ ना कुछ नया बदलाव मध्य प्रदेश की राजनीति का हिस्सा रही है। इसका ही एक ताजा उदाहरण मंगलवार को प्रदेश में देखने को मिला। जहां रीवा(rewa) जिले के बीजेपी विधायक श्यामलाल द्विवेदी(BJP MLA Shyamlal Dwivedi) ने कुछ ऐसी प्रतिज्ञा कर ली। जिस पर वह चर्चा का विषय बन गए।

दरअसल रीवा जिले के त्योंथर विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक श्यामलाल द्विवेदी ने मंगलवार को ऐलान किया है कि जब तक प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान(Shivraj Singh Chauhan) अस्पताल में है और वह स्वस्थ नहीं हो जाते तब तक वह अन्न जल ग्रहण नहीं करेंगे। मंगलवार को शिव मंदिर में पूजा करने के बाद बीजेपी विधायक द्विवेदी ने कहा कि वह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) के ठीक होने तक मंदिर में ही रहेंगे। वहीं से पहले उन्होंने मंदिर में पूजा अर्चना की और सीएम शिवराज(CM Shivraj) के स्वस्थ होने की कामना भी की। बीजेपी विधायक श्यामलाल द्विवेदी ने कहा कि देश में असुर शक्तियों का प्रकोप बढ़ रहा है जिसकी वजह से इस तरह के वायरस का संक्रमण देश में तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में उन्होंने देश की जनता के लिए मंगल कामना की है।

दूसरी तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बीजेपी विधायक के ऐलान के बाद ट्वीट करते हुए कहा कि मुझे यह पता चला कि कुछ लोगों ने मेरे स्वस्थ होने तक अन्य जल का त्याग किया। मैं उनकी भावनाओं का आदर करता हूं लेकिन मैं उनसे प्रार्थना करता हूं कि ऐसा ना करें। कोरोना संक्रमण में अपना ध्यान रखें डॉक्टर्स की टीम मेरे स्वास्थ्य का ध्यान रख रही है और मैं जल्दी ही ठीक हो कर वापस लौटूंगा। शिवराज ने कहा कि मुझे सूचना मिली है कि मेरे स्वास्थ्य के लिए लोग यज्ञ एवं पूजा-अर्चना कर रहे हैं। मैं सभी शुभचिंतकों को हृदय से धन्यवाद देता हूँ। आप सभी के प्रेम, स्नेह और आशीर्वाद से मैं पूर्ण रूप से स्वस्थ होने जा रहा हूँ। इस प्यार का कोई मोल नहीं लेकिन मैं सदैव आपके कल्याण के लिए कार्य करूंगा।

बता दे कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 25 जुलाई को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती हैं। जहां मुख्यमंत्री शिवराज की दो जांच किए गए लेकिन दोनों रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें अभी एक सप्ताह के लिए अस्पताल में ही रखा क्या है। हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अस्पताल से ही लगातार सरकारी कामकाज पर नजर बनाए हुए हैं और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठकें ले रहे हैं।