बीजेपी नेता प्रभात झा का वॉर- परिणाम आते ही हो जाएगा कमलनाथ के राजनैतिक कैरियर का अंत

कांग्रेस के प्रचार रैली पर निशाना साधते हुए प्रभात झा(prabhat jha) ने कहा कि दिग्विजय सिंह(digvijay singh) जैसे दिग्गज नेता प्रचार से गायब नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता चुनावी सभा से खुद को अलग रखे हुए हैं।

Prabhat jha

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी में उपचुनाव(MP By election) की तारीखों की घोषणा के साथ ही तल्ख बयानबाजी एवं आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी हो गया है। नेता एक दूसरे की खामियां जनता के सामने लाने में पीछे नहीं हट रहे हैं। इसी बीच भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष प्रभात झा(prabhat jha) ने कांग्रेस(congress) पर निशाना साधा है।

प्रभात झा ने कहा कि इस समय देश में कांग्रेस का संगठन खत्म हो चुका है और उप चुनाव के प्रचार में कांग्रेस के बड़े दिग्गज गायब नजर आ रहे हैं।मीडिया से बात करते हुए भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष प्रभात झा(prabhat jha) ने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की नैया डूब चुकी है और 10 नवंबर को परिणाम आते ही कमलनाथ का राजनीतिक कैरियर समाप्त हो जाएगा।

वही बागी हुए विधायकों को लगातार बिकाऊ कहकर संबोधित करने वाले सवाल का जवाब देते हुए प्रभात झा ने कहा कि कांग्रेस अपने नेताओं को बिकाऊ तो जरूर कह रही है किंतु उनके पास उन नेताओं के खिलाफ कोई भी सबूत नहीं है। कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए प्रभात झा(prabhat jha) ने कहा कि कमलनाथ(kamalnath) ने जो वचन पत्र जनता के सामने रखा उसे पूरा तक नहीं किया। जिससे विधायक(mla) नाराज हो गए और अब इस्तीफा देने वाले विधायकों को वह बिकाऊ कह रहे हैं यह जनप्रतिनिधि का अपमान है।

वही कांग्रेस के प्रचार रैली पर निशाना साधते हुए प्रभात झा(prabhat jha) ने कहा कि दिग्विजय सिंह(digvijay singh) जैसे दिग्गज नेता प्रचार से गायब नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता चुनावी सभा से खुद को अलग रखे हुए हैं। कमलनाथ के सामने उपचुनाव में बहुत बड़ी चुनौती है। वहीं उन्होंने कहा कि एक भी सीट ऐसे बता दे जहां कांग्रेस को अच्छी तरह जीत हासिल नजर आ रही है।

कांग्रेस पर लगातार तीखी बयानबाजी करते हुए प्रभात झा ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं की नहीं एक परिवार और चंद नेताओं की पार्टी है और यही वजह है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस के अस्तित्व को कमलनाथ ने खत्म कर दिया। प्रभात(prabhat jha) आगे कहते हैं भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है यह जमीनी कार्यकर्ता राष्ट्रीय स्तर का नेता बन जाता है। दूसरे पार्टी में राजनीतिक दल परिवार की पार्टी जोड़-तोड़ कर अध्यक्ष बन रही है।

ग्वालियर चम्बल(gwalior chambal)  क्षेत्र में अपनी पकड़ मजबूत करते हुए प्रभात झा(prabhat jha) ने कहा कि 15 महीने में कांग्रेस की सरकार के कमलनाथ एक भी बार चंबल इलाके में नजर नहीं आएं। जबकि शिवराज सिंह चौहान(shivraj singh chauhan) प्रदेश के हर स्थान पर पहुंचे हैं।

प्रभात झा(prabhat jha) ने सीधे तौर पर आरोप लगाया है कि जिस तरह केंद्र में गांधी परिवार ने कांग्रेस के अस्तित्व को पूरे भारत में डुबोने का काम किया है। उसी नक्शे कदम पर कमलनाथ प्रदेश में कांग्रेस की नैया डूबा रहे हैं और आगामी 10 नवंबर को चुनाव परिणाम के आने के साथ ही कमलनाथ का राजनीतिक सफर पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। खैर अब ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि परिणाम आने के बाद मध्य प्रदेश की सत्ता किसे मिलती है। फिलहाल इन तल्ख बयानबाजी का सिलसिला जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here