त्रिपुरा निकाय चुनाव में भाजपा की बंपर जीत, अगरतला में क्लीन स्वीप, PM ने दी बधाई

प्रधानमंत्री ने कहा कि त्रिपुरा के लोगों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वे सुशासन की राजनीति को प्राथमिकता देते हैं।

अगरतला, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों की तैयारी में जुटी भाजपा (BJP) को त्रिपुरा से बड़ी और अच्छी खबर आई है। त्रिपुरा में हुए नगरीय निकाय चुनावों (Tripura civic polls) में भाजपा ने 334 में 329 सीटों पर जीत दर्ज कर कार्यकर्ताओं में जोश भर दिया है।  इतना ही नहीं भाजपा ने अगरतला के 51 वार्डों में से सभी पर जीत दर्ज करते हुए क्लीन स्वीप भी किया  है।  अगरतला (Agartala) में ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी और सीपीआईएम खाता भी नहीं खोल पाए।

त्रिपुरा निकाय चुनावों में मिली भारी जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने मतदाताओं का माना है और पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बधाई देते हुए लिखा -त्रिपुरा के लोगों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वे सुशासन की राजनीति को प्राथमिकता देते हैं। मैं उन्हें स्पष्ट समर्थन के लिए धन्यवाद देना चाहता हूँ ,  ये आशीर्वाद हमें त्रिपुरा में प्रत्येक व्यक्ति के कल्याण के लिए काम करने की अधिक शक्ति प्रदान करते हैं।

ये भी पढ़ें – Omicron Variants : महाराष्ट्र में सख्ती, बिना मास्क 10,000 तक जुर्माना, फुली वैक्सीनेट ही निकलेंगे घर से

उधर जेपी नड्डा ने ट्वीट कर लिखा – त्रिपुरा के स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा ने आज घोषित हुए 334 वार्ड के नतीजों में 329 में जीत दर्ज की है। जिसमें से भाजपा ने 112 सीटें पहले ही निर्विरोध जीत ली थी। इस चुनाव में विपक्ष को सिर्फ 5 सीट ही हासिल हुई है।

ये भी पढ़ें – नये वैरिएंट ओमिक्रॉन का असर, बदल सकता है 15 दिसंबर से इंटरनेशनल उड़ान शुरू करने का फैसला

उन्होंने कहा कि त्रिपुरा के स्थानीय निकाय चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक विजय राष्ट्रवादी ताकतों की जीत है, विकासवादी सोच की जीत है। साथ ही यह विघटनकारी ताकतों, हिंसा की राजनीति करने वालों और त्रिपुरा का अपमान करने वालों की करारी हार है। स्थानीय निकायों में भाजपा की जीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों, उनके लोक कल्याणकारी योजनाओं और राज्य के विकास के लिए डबल इंजन की सरकार के प्रति जनता की आस्था और विश्वास का प्रतीक है।

ये भी पढ़ें – Airtel, Vodafone Idea के बाद अब Jio का इंटरनेट प्लान्स महंगा, 1 दिसंबर से लागू होगी नई दर