भोपाल।

19 तारीख को होने वाले राज्यसभा चुनाव (RajyaSabha) से पहले एमपी(MP) में सियासत का पारा गर्म हो चला है। बीजेपी-कांग्रेस (BJP-Congress)दोनों दलों ने कमर कस ली है और विधायकों को एकजुट में करने में जुट गई है।खास करके दोनों दलों की निगाह दूसरी सीट पर है। एक तरफ आज बुधवार को जहां कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ (Congress President Kamal Nath) ने बैठक बुलाई है वही दूसरी तरफ बीजेपी ने रात में डिनर पार्टी रखी है। माना जा रहा है कि बीजेपी इस डिनर के बहाने अपनी विधायकों के मन की बातें जानने की कोशिश करेगी।इसके बाद 18 को विधायक दल की बैठक बुलाई गई है जिसमें नेताओं को एकजुट रहने का मंत्र दिया जाएगा। इसके लिए दिल्ली के कई बड़े नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है।चुनाव से पहले  दूसरी सीट को लेकर बीजेपी के इस दांव को मास्टरस्ट्रोक माना जा रहा है।कौन किस पर भारी पड़ता है ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

दरअसल, आंकड़ों के हिसाब से बीजेपी को दो सीटें मिलती नजर आ रही है, इसके के चलते बीजेपी कोई रिस्क नही लेना चाहती, इसीलिए भाजपा द्वारा डिनर पार्टी का आयोजिन किया गया है और अपने सभी विधायकों को आज 17 जून की शाम तक भोपाल पहुंचने को कहा है।इसमें विधायकों की गिनती होगी और जो विधायक नही आए उन्हें अपनी तरफ करने की कोशिश की जाएगी। वही इस डिनर में दिल्ली से पर्यवेक्षक के तौर पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर व पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीजे पांडा और प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे के भी पहुंच रहे है। ये नेता 19 जून की दोपहर बाद दिल्ली रवाना होंगे। भाजपा ने 18 जून को शाम 6 बजे विधायक दल की बैठक पार्टी दफ्तर में रखी है। इसमें राज्यसभा चुनाव का माॅकपोल होगा।बैठक में माॅकपोल के जरिए विधायकों को वोट करने की जानकारी दी जाएगी। इसमें खासतौर पर प्रथम वरीयता में राज्यसभा के उम्मीदवार सिंधिया का नाम रखा गया है, पार्टी ने तमाम सीनियर नेताओं को यह जिम्मेदारी दे दी है कि वे अपने जिले व क्षेत्र के विधायकों के निरंतर संपर्क में रहें।वही दोनों दलों की निर्दलीयों, सपा और बसपा के विधायकों पर भी नजर है।

VD कर चुके है दावा, BSP-SP और निर्दलीय साथ, 2 सीटें जीतेंगे
इससे पहले बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा दावा कर चुके है कि बीएसपी, एसपी और चारों निर्दलीय उनके साथ है और वे हर हाल में दो सीटों पर जीत हासिल करेंगे। । सरकार के समर्थन के साथ राज्यसभा चुनाव में भी ,बीएसपी ,एसपी और निर्दलीय विधायक बीजेपी का समर्थन करेंगे ।

19 को होना है राज्यसभा चुनाव

लॉक डाउन के चलते लम्बे समय से मध्य प्रदेश की तीन राज्यसभा सीटों पर चुनाव होना है।सदन में अभी भाजपा के विधायकों की संख्या 107 और कांग्रेस विधायकों की संख्या 92 है। चार निर्दलीय, दो बसपा और एक सदस्य सपा के हैं। 230 सदस्यीय विधानसभा के 206 विधायक मतदान करेंगे। एक सीट को जीतने के लिए 52 विधायकों की जरूरत होगी। ऐसे में बीजेपी के पास अकेले 107 विधायक हैं। दिग्विजय सिंह, प्रभात झा और सत्यनारायण जटिया का कार्यकाल नौ अप्रैल को समाप्त हो जाने के बाद से तीनों सीटे रिक्त है। बीजेपी की ओर से ज्योतिरादित्य सिंधिया और डॉक्टर सुमेर सिंह सोलंकी (Jyotiraditya Scindia and Dr. Sumer Singh Solanki) राज्यसभा के उम्मीदवार हैं। वहीं कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया  (Digvijay Singh and Phool Singh Baraiya) ने नामांकन भरा है। जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, फूलसिंह बरैया और सुमेर सिंह सोलंकी के भाग्य का फैसला होना है। अब देखना दिलचस्प होगा कि ये सातों किसको वोट करते है।