होशंगाबाद, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) के होशंगाबाद (hoshangabad) जिले से एक बड़ा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जहां SP ने दो पुलिसकर्मी (Policeman) सहित एक महिला पुलिसकर्मी को निलंबित (suspend)  कर दिया है। यह पुलिसकर्मियों के वीडियो फोटो बनाकर उन्हें ब्लैकमेल (blackmail) और HoneyTrap  करने का काम करते थे। ब्लैकमेलिंग की गैंग थाने से ही चलाई जा रही थी।

दरअसल होशंगाबाद जिले के एक थाना में ब्लैकमेल करने वाले गैंग का पर्दाफाश हुआ है। मामले में महिला कॉन्स्टेबल सहित कॉन्स्टेबल और एक महिला कर्मचारी को दबोचा गया है। यह पुलिसकर्मी महिला के साथ मिलकर हनी ट्रैप का गैंग चला रहे थे। गैंग में शामिल सुनीता ठाकुर युवाओं को होटल लेकर जाती थी और वीडियो और फोटो शूट कर दी थी। इसके अलावा पुलिसकर्मी युवाओं को डरा धमका कर उनसे पैसे वसूलते थे।

Read More: Raisen: बीजेपी जिला अध्यक्ष के रिश्तेदार के डंपर से हुई 3 लोगों की दर्दनाक मौत

इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पुलिसकर्मियों ने गैंग में शामिल महिला को वसूली में कम रुपए दिए। महिला की शिकायत के बाद विभागीय जांच शुरू करते हुए एसपी ने तीनों को निलंबित कर दिया है। इस मामले में डीएसपी महिला सेल प्रभारी आशुतोष पटेल का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। थाने में ब्लैकमेलिंग, 7 आवेदन का कोई रिकॉर्ड कोतवाली में उपलब्ध नहीं है ब्लैकमेलिंग के जरिये महिला पुलिसकर्मियों द्वारा युवाओं से रुपए वसूले जाते थे। महिला सुनीता ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस थाने में चल रहे इस ब्लैकमेलिंग के खेल का पांच महीने से जारी था। जहां महिला युवक को बुलाकर होटल रूम ले जाती थी और वहां वीडियो और फोटो निकलवाती थी। वहीं पुलिस को बुलाकर युवकों को ब्लैकमेल करने का काम किया जाता था। युवक से 20000, 50000, 80000 तक रुपए लिए जाते थे।

Read More: MP College: मप्र में इस महीने से खुलेंगे कॉलेज! मंत्री समूह की बैठक में तैयार हुआ प्रस्ताव

मामले में एसपी संतोष सिंह गौर का कहना है कि ब्लैकमेल के नाम आने के बाद तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया है। सुनीता ठाकुर सहित तीनों पुलिसकर्मियों के मोबाइल डिटेल की जांच की जा रही है गैंग में कौन-कौन शामिल है। इस बात का जल्द पता लगाया जाएगा। वही इस गिरोह में शामिल हेड कॉन्स्टेबल ज्योति मांझी और कॉन्स्टेबल मनोज वर्मा दोनों रिश्ते में भाई बहन है। लंबे समय से दोनों होशंगाबाद मुख्यालय में ही तैनात है। इसके साथ ही साथ ज्योति मांझी के पति पुलिस में ही है।