Home ministry

भोपाल।

प्रदेश((Madhya Pradesh) में कोरोना संकट के बीच अब 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की तैयारी शुरू कर दी गई है। प्रदेश में कांग्रेस (Congress) के 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद हुए सत्ता परिवर्तन की अभी असली परीक्षा होना बाकी है। कांग्रेस छोड़ भाजपा (BJP) में आये नेताओं का दल बदलने का फैसला कितना सही साबित होगा यह आगामी समय में होने वाले उपचुनाव में तय होगा।राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है।इसके साथ साथ चुनाव आयोग ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। जहां मतदाता सूची के पुनरीक्षण और ईवीएम और वीवीपैट की जांच का काम शुरू हो चुका है। माना जा रहा है कि सितंबर में प्रदेश के 24 सीटों पर उपचुनाव हो सकते हैं।

दरअसल प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। जिसकी जानकारी 10 मार्च को विधानसभा ने विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर चुनाव आयोग को भेज दी थी। फिर प्रदेश के कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद उपचुनाव की स्थितियों पर ताला लग चुका था। किंतु अब फिर से एक बार इन 24 विधानसभा सीटों पर चुनाव करवाने को लेकर तैयारियां शुरू की जा चुकी है। जिसके बाद माना जा रहा है कि सितंबर माह में प्रदेश के 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो सकते हैं। जिसको लेकर प्रदेश के मतदाता सूची के पुनरीक्षण के साथ-साथ ईवीएम और विविपेट की जांच का काम शुरू हो चुका है। वही 24 विधानसभा सीटों के तहत आने वाले क्षेत्र में संक्रमण की स्थिति को देखा जा रहा है। उपचुनाव को लेकर चुनाव आयोग को भी बड़ी तैयारी करनी है। जहां विधानसभा के कंटेनमेंट जोन में डॉक्टरों की टीम की तैनाती की जाएगी। वही मतदाताओं के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने समेत उनके बीच मास्क, सैनिटाइजर और ग्लव्स का वितरण भी किया जाएगा।

मध्यप्रदेश में 24 विधानसभा सीट पर उपचुनाव होंगे। जौरा से कांग्रेस विधायक बनवारीलाल शर्मा और आगर से भाजपा विधायक मनोहर ऊंटवाल का निधन होने से दो सीटें पहले से रिक्त हैं। कांग्रेस के छह बागी विधायक (तुलसीराम सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत, इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, डॉ. प्रभुराम चौधरी और प्रद्युम्न सिंह तोमर) के इस्तीफे मंजूर हो चुके थे। चुनाव आयोग को सीट रिक्त होने की सूचना दी जा चुकी थी। वहीं, कांग्रेस के 16 अन्य बागी विधायकों ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफे को स्वीकार करते ही मध्‍य प्रदेश में 24 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने थे।