उपचुनाव के बाद पहली बार आज होने वाली कैबिनेट बैठक हुई स्थगित, यह है कारण

यह बैठक अब 26 नंवबर को होगी। बैठक में कुल 25 प्रस्तावों पर चर्चा होनी है।

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। उपचुनाव (By-election) के बाद पहली बार होने जा रही शिवराज कैबिनेट की बैठक (Shivraj Cabinet Meeting) आखिरकार मंगलवार को स्थगित हो गई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) सुबह 10:30 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की बैठक में वीडियो क्रान्फ्रेंस (Video Conferencing) के जरिए शामिल होंगे। पहले यह वीसी दोपहर 12 बजे होना थी, लेकिन इसका समय बदला गया है। इस कारण कैबिनेट की बैठक स्थगित की गई है। यह बैठक अब 26 नंवबर को होगी।

ग्वालियर और रीवा की सरकारी प्रेस बंद करने की तैयारी है। राजस्व विभाग ने यह प्रस्ताव कैबिनेट में स्वीकृति के लिए भेज दिया है। इस पर 26 नंवबर को होने वाली कैबिनेट बैठक में इस प्रस्ताव पर मुहर लग सकती है। बता दें कि केवल ग्वालियर प्रेस में ही 180 कर्मचारी हैं। उपचुनाव के बाद यह पहली बैठक हो रही है।

Read More: कमलनाथ पर लटकी तलवार, नरोत्तम ने इओडब्ल्यू से जांच के दिए संकेत

बैठक में कुल 25 प्रस्तावों पर चर्चा होनी है। जिसमें मुख्य रूप से ऊर्जा विभाग के मध्य प्रदेश पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी द्वारा केनरा बैंक से 7.35 % ब्याज पर 800 करोड़ के लोन की गारंटी सरकार से लेने की अनुमति का प्रस्ताव पर भी चर्चा होगी।

शिवराज कैबिनेट में इन प्रस्तावों के अलावा मुंबई स्थित मध्यलोक अतिथि गृह भवन निर्माण के लिए पुनरीक्षित प्रशासकीय स्वीकृति, राज्य मानव अधिकार आयोग के लिए स्वीकृत अस्थाई पद, इसके साथ ही नेशनल पार्क व अभ्यारण और चिड़िया घर में प्रवेश शुल्क से प्राप्त होने वाली राशि के उपयोग के लिए विकास निधि फंड की स्थापना जैसे प्रस्ताव शामिल होंगे।