किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाले 3 समिति प्रबंधकों पर मामला दर्ज

डबरा/सलिल श्रीवास्तव।
एक और प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान किसानों के लिए कई योजना ला रहे हैं तो साथ ही लॉकडाउन में किसान अपनी फसल बेचने के लिए परेशान ना हो. इसके लिए लगातार व्यवस्था बनाने के निर्देश अधिकारियों को दे रहे हैं। इस सब के बावजूद भी कुछ लोग ऐसे हैं जो इस कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के बीच किसानों के साथ धोखाधड़ी करने में लगे हुए हैं ।ताजा मामला भितरवार अनुबिभाग का है जहां गेहूं खरीद केंद्रों का निरीक्षण करने जब एसडीएम और भाजपा नेता पहुंचे तो बड़ी धोखाधड़ी उजागर हुई केंद्रों पर 500 ग्राम से लेकर डेढ़ किलो तक अधिक गेहूं किसानों का तौला जा रहा था मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीएम ने कार्रवाई के निर्देश दिए और खाद्य अधिकारी की शिकायत पर तीन समिति प्रबंधकों के खिलाफ धारा 420 का मामला दर्ज कर लिया है।

किसानों के साथ धोखा घड़ी का यह ग्वालियर जिले का संभवत पहला मामला होगा जिसमें इस साल एफआईआर कराई गई है।भितरवार थाने के अंतर्गत आने वाले समर्थन मूल्य गेहूं खरीद केंद्र गोहिंदा के समिति प्रबंधक मदन तिवारी के खिलाफ किसानों के गेहूं को तादाद से ज्यादा तोल कर लिया जा रहा था जिसका मामला उस समय सामने आया जब भाजपा नेता, एसडीएम केके सिंह गौर और तहसीलदार कुलदीप दुबे के साथ खरीद केंद्रों पर जायजा लेने पहुंचे और किसानों से लिए गए गेहूं के बोरों को तौला गया तो गेहूं के बोरों में 500 ग्राम से लेकर डेढ़ किलो तक अधिक तौला गया था जिसके चलते प्रशासन ने गोहिंदा समिति प्रबंधक मदन तिवारी एवं प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति बागबई के समिति प्रबंधक वीरेंद्र शर्मा के खिलाफ भितरवार थाने में मामला दर्ज कराया। वही चिटोली मैं भी इसी प्रकार की समस्या सामने भी की गई जिसके चलते समिति प्रबंधक दिनेश सिंह के खिलाफ बेलगढ़ा थाना में मामला दर्ज कराया गया है।