CBSE

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। मंगलवार को केंद्र सरकार ने कोरोनावायरस (corona Virus) के फैलते संक्रमण को देखते हुए CBSE Board की परीक्षाओं को आगामी जनवरी और फरवरी (january-febuary) में ना करने का फैसला किया है। इस फैसले की जानकारी केंद्र शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक (Center Education Minister Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank)  द्वारा दी गई। केंद्र शिक्षा मंत्री ने कहा कि परीक्षा की तारीखों (Exam Dates) को लेकर मंथन किया जा रहा है, जल्दी एग्जाम डेट का ऐलान कर दिया जाएगा।

बता दे कि मंगलवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल और शिक्षकों के बीच संवाद (conversation) हुआ है और इसी संवाद के दौरान शिक्षा मंत्री ने बताया कि नई नीतियों के तहत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) लॉ लाया जा रहा है। शिक्षा मंत्री ने बताया कि पूरी दुनिया में भारत ही एकमात्र ऐसा देश होगा, जहां स्कूली स्तर (School Level) से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की पढ़ाई होगी।

ज्ञात हो कि केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशांक ने परीक्षाओं के संचालन (Conduct examinations) के लिए शिक्षकों, पूर्व छात्र और अभिभावकों के साथ त्रिस्तरीय संवाद (Three way communication) की योजना बनाई गई थी। शिक्षा मंत्री द्वारा अलग-अलग तारीखों पर छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के साथ वेबिनार के जरिए सीधे संवाद किया जा रहा है।

वही जनवरी-फरवरी में सीबीएससी बोर्ड (CBSE Board) एग्जाम नहीं होने को लेकर शिक्षा मंत्री द्वारा बताया गया कि कोरोना काल (Corona Period में नीट परीक्षा (NEET Exam) आयोजित की गई थी। नीट परीक्षा के मानकों को ध्यान में रखते हुए हैं सीबीएसई की परीक्षा( CBSE Board Exam) भी आयोजित की जाएगी। जनवरी-फरवरी में तो परीक्षा आयोजित करना संभव नहीं है लेकिन मार्च (March) के बाद परीक्षा आयोजित करने को लेकर विचार किया जाएगा।

ये भी पढ़े- MP School: निजी स्कूलों के लिए राज्य शासन का बड़ा फैसला, छात्रों को मिलेगा लाभ

बता दें कि शिक्षा मंत्रालय द्वारा सीबीएससी बोर्ड (CBSE Board) एग्जाम  को लेकर पहले ही यह साफ तौर पर बता दिया गया है कि परीक्षा ऑनलाइन (Online Examination) आयोजित नहीं की जाएगी। शिक्षा मंत्रालय का मानना है कि छात्रों की प्रगति (Growth) और उनके बेहतर भविष्य (future) को सुनिश्चित करने के लिए परीक्षा का आयोजन करना बहुत ही जरूरी है।

इस साल कोरोनावायरस (Corona Virus) के मद्देनजर परीक्षाओं के आयोजन को लेकर छात्र उनके अभिभावकों और शिक्षकों क बीच हर तरह की चर्चाएं हो रही हैं। वहीं अभी तक कोरोनावायरस के फैलते संक्रमण को देखते हुए देश भर के स्कूल और कॉलेज पूर्ण रूप से खोले नहीं गए है। बोर्ड परीक्षा के रजिस्ट्रेशन से लेकर क्लासेस संचालन तक सारे ही काम ऑनलाइन तरीके से किए जा रहे हैं।