सतना में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने की बड़ी घोषणाएं, बोले- 2023 तक लेकर आएंगे

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आज मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सतना जिले में जनदर्शन कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि वर्ष 2023 तक किसी भी हालत में शिवराजपुर में बरगी बांध का पानी लेकर आएंगे। शिवराजपुर में बिजली का सब-स्टेशन बनाया जाएगा जिससे बिजली की निर्बाध आपूर्ति हो। हम यहाँ मुख्यमंत्री हाट-बाजार बनाएंगे।।हमने तय किया है कि गांव में नल-जल योजना के माध्यम से हर घर में टोटी वाला नल लगाकर शुद्ध पानी उपलब्ध कराया जाएगा। शिवराजपुर में बिजली का सब स्टेशन बनाया जाएगा। ताकि बिजली की आपूर्ति की दिक्कत न हो।

यह भी पढ़े.. MP : कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, अटक सकती है अक्टूबर की सैलरी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि कोरोना काल में अकेले रैगांव विधानसभा क्षेत्र में 300 करोड़ रुपये का गेहूं और 150 करोड़ की धान समर्थन मूल्य (MSP) पर खरीदने का कार्य किया गया। मुझे इस बात की खुशी है कि कोरोना काल में अकेले रैगांव विधानसभा क्षेत्र (Raigaon Assembly Constituency) में 300 करोड़ रुपये का गेहूं और 150 करोड़ की धान समर्थन मूल्य पर खरीदने का कार्य किया गया प्रदेश के हर गांव में नल जल योजना के माध्यम से नल लगाकर घर-घर जल पहुंचाया जायेगा। अगले तीन साल में इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि प्रदेश में सामान्य वर्ग आयोग का गठन किया गया है। यह सामान्य वर्ग के कल्याण, शिक्षा और रोजगार की योजना बनाएगा। सामान्य वर्ग के कल्याण के लिए हरसंभव प्रयास किये जायेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने तय किया कि नवंबर तक गरीबों को मुफ्त में अनाज प्रदान किया जाएगा। प्रदेश सरकार भी गरीबों को सस्ती दर पर राशन प्रदान कर रही है।गरीबों के लिए इस वर्ष 8 लाख मकान बनाये जाएंगे। तीन साल तक सभी गरीबों को मकान बनवाने का पैसा दे दिया जाएगा। कांग्रेस ने संबल योजना बंद कर दी थी, हमने उसे फिर प्रारम्भ किया। गरीब प्रतिभाशाली बच्चों की उच्च शिक्षा की फीस सरकार भरेगी।

यह भी पढ़े.. MP Weather : 4 सिस्टम एक्टिव, मप्र के इन जिलों में आज भारी बारिश का अलर्ट

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि मैं निर्देश दे रहा हूं कि शिविरों के माध्यम से छूटे हुए पात्र नागरिकों का नाम गरीबी रेखा में जोड़कर उन्हें 1 रुपये गेहूं, चावल और नमक का लाभ दिया जाए।मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना सबके लिए बनाई गई। इसमें हमने तय किया कि एक रुपया किलो गेहूं, चावल और नमक सभी पात्रों को दिया जाएगा। कोरोना को देखते हुए प्रधानमंत्री कल्याण योजना के तहत पीएम नरेंन्द्र मोदी (PM Modi) ने तय किया कि नवंबर तक 5 किलो गेहूं, चावल नि:शुल्क प्रदान किया जाएगा।सामाजिक समरसता बनी रहे, एकता का सूत्र न टूटे और सबको न्याय मिले। मध्यप्रदेश सरकार का यही सकल्प है। इसलिए प्रदेश में सामान्य वर्ग आयोग का गठन किया गया है। आयोग का अध्यक्ष भी बनाया गया है। यह सामान्य वर्ग के कल्याण की, शिक्षा की और रोजगार की योजना बनाएगा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (Prime Minister’s Housing Scheme)  के अंतर्गत इस वर्ष 8 लाख नए मकान गरीबों के लिए बनाए जाएंगे। अगले वर्ष फिर 8 लाख मकान बनाए जाएंगे। अगले तीन से साढ़े तीन सालों में हर गरीब को जिनकी कच्ची झोपड़ी है उनके मकान बनवा दिये जाएंगे। जिनके आयुष्मान भारत योजना के तहत कार्ड नहीं बने। उनके कार्ड शिविर लगाकर बनाए जाएंगे। इस योजना के तहत 5 लाख तक का नि:शुल्क इलाज सभी सरकारी और चिन्हिंत प्राइवेट अस्पताल में नि:शुल्क प्रदान किया जाता है।

यह भी पढ़े… बैतूल कलेक्टर की दो टूक-निकम्मे कर्मचारी होंगे दंडित, पटवारी भी होंगे बर्खास्त