चिटफंडियों औऱ ठगों पर कसेगी नकेल, क्राइम ब्रांच में बनी नई सेल, एसपी करेंगे मॉनिटरिंग

इस सेल में 3 सब इंस्पेक्टर के साथ एक दर्जन पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। एसपी खुद सेल की मॉनिटरिंग करेंगे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना| जिले में बढ़ते साइबर अपराधों (cyber crime) और चिटफंड कारोबारियों (chit fund) के खिलाफ ग्वालियर पुलिस सख्त एक्शन मोड में आ गई है। एसपी (SP) ने क्राइम ब्रांच के अंतर्गत एक नई सेल का गठन किया है जो चिटफंडियो और ठगों पर नजर रखेगी। इस सेल में 3 सब इंस्पेक्टर के साथ एक दर्जन पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे। एसपी खुद सेल की मॉनिटरिंग करेंगे।

जिले में पिछले लंबे अरसे से आ रही ठगी की शिकायतों और चिटफंड कारोबारियों के खिलाफ शिकायतों को तत्काल निपटाने के लिए एसपी अमित सांघी ने क्राइम ब्रांच में एक नई सेल का गठन किया है। ये सेल एडिशनल एसपी क्राइम सत्येन्द्र सिंह तोमर के निर्देशन में काम करेगी। सेल का नोडल अधिकारी डीएसपी क्राइम विजय भदौरिया को बनाया गया है। एसपी स्वयं इस सेल की मॉनीटरिंग करेंगे। क्राइम ब्रांच के अंतर्गत बनाई गई इस सेल में तीन सब इंस्पेक्टर के साथ-साथ एक दर्जन से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया जायेगा । पीड़ित व्यक्ति चिटफंड या ठगी संबंधी शिकायत क्राइम ब्रांच में प्रातः 11:00 बजे से 02:00 बजे तक सीधे डीएसपी क्राइम विजय भदौरिया के स से मिलकर कर सकता है ।

एसपी की मंशा के मुताबिक इस सेल के माध्यम से रोज प्राप्त होने वाली शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही करते हुए क्राइम ब्रांच के सायबर एक्सपर्टस द्वारा शिकायतकर्ताओं के हित में तत्काल कार्रवाई की जायेगी। ये सायबर एक्सपर्ट की टीम ठगी की शिकायतों के साथ- साथ चिटफंड संबंधी शिकायतों पर भी कार्यवाही करेगी। रुपये दुगने करने का झांसा देने वाले गिरोहों, कंपनियों के विरूद्ध प्राप्त शिकायतों पर भी इस सेल द्वारा कार्रवाई की जायेगी।